दैनिक भास्कर ने लॉन्च किया ‘गेटवे टू न्यू भोपाल’

Tuesday, 27 February, 2018

समाचार4मीडिया.कॉम ब्यूरो

रविवार 21 अक्टूबर, 2012 को दैनिक भास्कर के भोपाल संस्करण ने 8 पेज का ‘गेटवे टू न्यू भोपाल’ जारी किया। यह किसी भी भाषाई समाचारपत्र की ओर से पहला प्रयास है। 8 पेज का यह कलात्मक कृति केबीसी मशीन पर की गई। यह दैनिक भास्कर के भोपाल सेल्स टीम का अभिनव प्रयोग है, जो भोपाल के 10 बिल्डरों के प्रयास से किया गया। उल्लेखनीय है कि न्यू भोपाल एरिया का निर्माण अंतररा,ट्रीय हवाई अड्डा के नजदीक इन्हीं बिल्डरों के द्वारा किया गया था। यह उपयुक्त अवसर बिल्डर्स द्वारा भोपाल में आवास मेला के एक्जीबिशन के दौरान मिला। बिल्डर्स के लिए त्योहारों का मौसम, बिल्डिंग की बुकिंग के लिए बड़ा ही शुभ समय होता है और इस तरह से 10 बिल्डर्स ने मिलकर एक सामूहिक विज्ञापन का निर्माण किया, जो इस मार्केट के लिए काफी मायने रखता है। इस विशेष फीचर को भोपाल सिटी में दैनिक भास्कर संस्करण के साथ वितरित किया गया।

इस अवसर पर दैनिक भास्कर समूह के मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ और गुजरात के सीईओ, आलोक पुरोहित ने कहा, “इनोवेशन अच्छा कार्य करता है जब वह प्रासंगिक हो और यह पाठकों के लिए एक सुखद आश्चर्य की तरह है। पाठकों को अपने पसंदीदा समाचारपत्र के साथ गेट वे टू न्यू भोपाल के मिलने से बिल्डर्स को भी काफी लाभ होगा।”

फ्रंट पेज से इसका कोई संकेत नहीं मिल रहा था लेकिन पाठक जैसे ही अखबार खोलते 8 पेज गेट फोल्ड में उन्हें न्यू भोपाल से संबंधित प्रॉपर्टीज के बारे में जानकारी इनसाइड पेज में उपलब्ध थी, जो दोनों तरफ से सेंटर की ओर खुल रहा था।

दैनिक भास्कर समूह के सीटीओ, आरडी भटनागर ने कहा, “दैनिक भास्कर समूह उन कुछ मीडिया समूह में से है जिसके पास केबीए मशीन है, जिस पर मल्टीपल इनोवेशन की सुविधा उपलब्ध है। भोपाल यूनिट का स्पेशल फीचर अहमदाबाद केंद्र से छपा।”

इस अवसर पर, एसएमडी एडस के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट, विनय माहेश्वरी ने कहा, “21 अक्टूबर को दैनिक भास्कर समाचारपत्र 60 पेज का था जिसमें 2 मुख्य समाचारपत्र को 8 पेज के गेट फेल्ड में पूर्ण तौर पर लपेटा गया था। पाठकों के लिए यह एक अनोखा अनुभव था और शहर में इस पर खूब चर्चा हुई। ” इस प्रयोग में द्वारकाधीश हवेली बिल्डर्स, चिनार ग्रीन स्पेस डेवलपर्स, ग्लोबस, कृष्णा बिल्डर्स लेकल एंड बिल्डर्समैप्लट्री बिल्डर्स, स्वदेश बिल्डर्स, विके बिल्डर्स और एसटीसी हाउसिंग प्राइवेट लिमिटेड शामिल थे, जो इस क्षेत्र में विभिन्न योजनाओं को क्रियान्वित कर रहे हैं।

केबीली मशीन जर्मन निर्मित है और इसके माध्यम से कलात्मक छपाई संभव होती है। इस मशीन की सहायता से एक घंटा में 80 हजार कॉपियों को छापा जा सकता है। केबीए मशीन से 8 पेज गेट फोल्ड को बनाया जाता है।

नोट: समाचार4मीडिया देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल एक्सचेंज4मीडिया का उपक्रम है। समाचार4मीडिया.कॉम में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें samachar4media@exchange4media.com पर भेज सकते हैं या 09899147504/ 09911612929 पर संपर्क कर सकते हैं।



पोल

रात 9 बजे आप हिंदी न्यूज चैनल पर कौन सा शो देखते हैं?

जी न्यूज पर सुधीर चौधरी का ‘DNA’

आजतक पर श्वेता सिंह का ‘खबरदार’

इंडिया टीवी पर रजत शर्मा का ‘आज की बात’

न्यूज18 हिंदी पर किशोर आजवाणी का ‘सौ बात की एक बात’

एबीपी न्यूज पर पुण्य प्रसून बाजपेयी का ‘मास्टरस्ट्रोक’

एनडीटीवी इंडिया पर रवीश कुमार का ‘प्राइम टाइम’

न्यूज नेशन पर अजय कुमार का ‘Question Hour’

Copyright © 2017 samachar4media.com