'परेशान' पत्रकार का कुछ यूं हुआ अंत...

Saturday, 03 February, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

मध्य प्रदेश के जबलपुर में उस समय सनसनी फैल गई जब एक दिन पहले ही लापता पत्रकार मनीष गुप्ता की लाश ग्वारीघाट नर्मदा तट पर मिली। आनन फानन में लोगों ने पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने पत्रकार के शव को कब्जे में लेकर उसका पोस्टमार्टम कराया

मिली जानकारी के मुताबिक, मिलौनीगंजी हनुमानताल थाना अंतर्गत निवासी मनीष गुप्ता पेशे से एक पत्रकार हैं। उनके परिवार में पत्नी राखी गुप्ता और दो बच्चे हैं। बेटा हार्दिक गोवा में इंजीनियरिंग की पढ़ाई के साथ एक निजी कंपनी में पार्ट टाइम नौकरी करता है। वहीं बेटी अंशिका कक्षा 10 की छात्रा है। 47 वर्षीय मनीष शव मिलने के एक दिन पहले यानी मंगलवार की सुबह से लापता थे। परिजनों के मुताबिक, वे घर से बिना बताए निकल गए थे। जब वे घर नहीं लौटे तो परिजनों ने उनके गुम होने की रिपोर्ट हनुमानताल थाना में लिखवाई थी, जिसके बाद से पुलिस उसकी तलाश कर रही थी।

पुलिस ने बताया कि बुधवार दोपहर 11.30 बजे के आसपास ग्वारीघाट नर्मदा तट पर दर्जनों लोग नहा रहे थे। तभी कुछ लोगों ने बड़ी सी चीज को तैरते हुए अपने पास आते देखा। जब वह चीज पास में आई तो मौजूद लोगों में भगदड़ मच गई, जिसके बाद नाविकों ने उसे बाहर निकाला। मृतक इनर और लोवर पहने हुए था। पुलिस ने जिलेभर के थानों में हुलिया भेजकर जानकारी जुटाई तो मृतक की पहचान मिलौनीगंज निवासी मनीष गुप्ता के रूप में हुई।

हनुमानताल पुलिस ने बताया कि मनीष की पत्नी राखी गुप्ता निजी स्कूल में शिक्षिका हैं। राखी ने पुलिस को बताया कि मंगलवार की सुबह 11 बजे मनीष घर पहुंचे और अपनी बाइक खड़ी करने के बाद उनकी एक्टिवा लेकर शाम तक लौटने की बात कही। लेकिन देर शाम तक घर नहीं पहुंचे। इसके बाद राखी ने उन्हें कई बार फोन के जरिए संपर्क करने की कोशिश की लेकिन मनीष को फोन तो लगा, लेकिन कॉल रिसीव नहीं हुई, जिसकी वजह उन्होंने थाने में सूचना दी।

मनीष के साथ काम करने वाले और परिजनों के मुताबिक आर्थिक तंगी की वजह से मनीष कुछ समय से काफी परेशान थे। पुलिस की जांच पड़ताल में पत्रकार मनीष गुप्ता की एक्टिवा श्मशानघाट में खड़ी हुई मिली। एक्टिवा की डिक्की में मनीष का मोबाइल और 3 हजार रुपए रखे हुए मिले लेकिन उनकी जैकेट और कपड़े गायब हैं।   

इधर गुरुवार की दोपहर मनीष का बेटा हार्दिक मुंबई से शहर पहुंचा, जिसके बाद शाम 4 बजे उसका अंतिम संस्कार करियापाथर श्मशानघाट में किया गया।

जानकारी के मुताबिक, 30 जनवरी को मनीष के गायब होने के दिन ही उनके घर में आग लग गई थी, जिसकी वजह से घर का ज्यादातर सामान भी जल गया था। लिहाजा ये भी अनुमान लगाया जा रहा है कि पहले से आर्थिक तंगी झेल रहे मनीष ने परेशान होकर आत्महत्या कर ली हो।

फिलहाल जो भी है मनीष की मौत को संदेह की नजर से देखा जा रहा है। कोई इसे आत्महत्या बता रहा है तो कोई हादसा। फिलहाल पुलिस मामले को जांच में लेकर मौत की असली वजह जानने की कोशिश कर रही है।   

 

समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। 



पोल

रात 9 बजे आप हिंदी न्यूज चैनल पर कौन सा शो देखते हैं?

जी न्यूज पर सुधीर चौधरी का ‘DNA’

आजतक पर श्वेता सिंह का ‘खबरदार’

इंडिया टीवी पर रजत शर्मा का ‘आज की बात’

न्यूज18 हिंदी पर किशोर आजवाणी का ‘सौ बात की एक बात’

एबीपी न्यूज पर पुण्य प्रसून बाजपेयी का ‘मास्टरस्ट्रोक’

एनडीटीवी इंडिया पर रवीश कुमार का ‘प्राइम टाइम’

न्यूज नेशन पर अजय कुमार का ‘Question Hour’

Copyright © 2017 samachar4media.com