आगरा प्रशासन ने पत्रकारों को सौंपे चेक, नुकसान की हुई भरपाई

Monday, 14 May, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

यूपी के आगरा में प्रशासन ने मीडियाकर्मियों के दर्द को समझा है और उस पर एक बड़ी पहल की है। दरअसल आगरा के जिलाधिकारी गौरव दयाल ने उन पत्रकारों के नुकसान की भरपाई आज सरकारी खजाने से की है, जिनका 2 अप्रैल को भारत बंद के दौरान हिंसक घटनाओं के बीच नुकसान हुआ था। उन्होंने नौ पत्रकारों-छायाकारों को एक लाख इकतीस हजार आठ सौ रुपयों की मदद दी है। इस दौरान विधायक जगन प्रसाद गर्ग भी उपस्थित रहे।

बता दें कि एससी-एसटी एक्ट में बदलाव को लेकर 2 अप्रैल, 2018 को भारत बंद का आह्वान किया गया था, इस दौरान देश के कई अलग-अलग जगहों पर हिंसक घटनाएं देखने को मिली थीं। आगरा भी इनमें से एक था, जहां हिंसक घटनाओं को कवर कर रहे कुछ पत्रकारों पर उपद्रवियों ने हमला कर दिया था। इस घटना के दौरान पत्रकारों के साथ न केवल मारपीट की गई थीबल्कि उनके कैमरे तोड़ दिए गए थेलैपटॉप व मोबाइल फोन लूट लिए गए थे, जिसके बाद से जिलाभर के पत्रकारों में इसे लेकर रोष था।

यहां पढ़ें- हिंसक आंदोलन में पत्रकारों को हुआ नुकसान, अब भरपाई की मांग

इस घटना को लेकर भारतीय राष्ट्रीय पत्रकार महासंघ ने जिलाधिकारी से मुलाकात भी की और उन्हें ज्ञापन देकर पत्रकारों को हुए नुकसान को शासन से दिलवाने व भविष्य में इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाए जाने की मांग की थी, जिसके बाद जिलाधिकारी ने पत्रकारों को यह आश्वासन दिया था कि वे शासन से पत्रकारों को हुए नुकसान की भरपाई कराएंगे। हालांकि उनके प्रयासों को अभी पूरी तरह से सफलता नहीं मिल पाई, लेकिन उन्होंने फिर भी पत्रकारों-छायाकारों की भरसक मदद की है। से पत्रकारों को मुआवजा दिलाया।

आगरा में 2 अप्रैल को हुई हिंसक घटनाओं के बीच कुल 9 पत्रकारों को नुकसान हुआ था, जिनके मोबाइल फोन या हैंडीकैम तोड़ दिए गए या लूट लिए गए थे। उनके लैपटॉप और कैमरा को भी नुकसान पहुंचाया गया था। इन पत्रकारों में ‘न्यूज नेशन’ के आशीष सिंह, ‘सी एक्सप्रेस के जयवीर सिंह सोलांकी’, समाचार प्लस के शिव चौहान, हिन्दी खबर के मनोज चाहर, नेटवर्क18 के अंकुर अस्थाना, आई नेक्स्ट के कृष्णा दुबे, नेशनल वॉयस के कामरान वरसी, जे.के. न्यूज के कपिल अग्रवाल और ए.पी.एनप्राइम न्यूज के मानवेंद्र का नाम शामिल था। सभी को उनके हुए नुकसान के एवज में आज एकमुश्त रकम दे दी गई है।

इस बारे में डीएम गौरव दयाल का कहना है कि चूंकि अभी प्रदेश सरकार की तरफ से राशि आने में थोड़ा समय लग रहा है, इसलिए डीएम कोटे से हमने पत्रकारों की आवश्यकता को देखते हुए भुगतान किया है, जैसे ही शासन से राशि आएगी, हम समायोजित कर देंगे।

आगरा प्रशासन के इस कदम की सराहना करते हुए आगरा से प्रकाशित होने वाले अखबार स्वराज्य टाइम्स के प्रधान संपादक विजय शर्मा का कहना है कि डीएम ने शहर के पत्रकारों-छायाकारों की जो मदद की है, वे अनुकरणीय है। उनके नुकसान की भरपाई को लेकर कुछ विवाद भी था, जिसे प्रशासन ने बड़ी समझदारी से हैंडल किया। उम्मीद है कि शहर में मीडिया और प्रशासन के बीच सामन्जस्य बना रहेगा।

राष्ट्रीय सहारा के आगरा ब्यूर चीफ समीर कुरेशी ने प्रशासन की तारीफ करते हुए कहा कि डीएम और एसएसपी जिस तरह लगातार हर बड़े मुद्दे को विवेक से सुलझा रहे हैं, ये उसी का प्रमाण है। मीडिया के साथियों के साथ हुए दुर्व्यवहार और उनके नुकसान को  जिस तरह प्रशासन ने समझा और उसका त्वरित निदान किया, वे सराहनीय है। 

यहां देखें पत्रकारों के नुकसान और भरपाई की पूरी लिस्ट- 

 




समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी रायसुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। 



संबंधित खबरें

पोल

रात 9 बजे आप हिंदी न्यूज चैनल पर कौन सा शो देखते हैं?

जी न्यूज पर सुधीर चौधरी का ‘DNA’

आजतक पर श्वेता सिंह का ‘खबरदार’

इंडिया टीवी पर रजत शर्मा का ‘आज की बात’

न्यूज18 हिंदी पर किशोर आजवाणी का ‘सौ बात की एक बात’

एबीपी न्यूज पर पुण्य प्रसून बाजपेयी का ‘मास्टरस्ट्रोक’

एनडीटीवी इंडिया पर रवीश कुमार का ‘प्राइम टाइम’

न्यूज नेशन पर अजय कुमार का ‘Question Hour’

Copyright © 2017 samachar4media.com