वरिष्ठ पत्रकार डॉ. वैदिक सवाल, लालू को आप ‘हीरो’ तो नहीं बना रहे?

वरिष्ठ पत्रकार डॉ. वैदिक सवाल, लालू को आप ‘हीरो’ तो नहीं बना रहे?

Wednesday, 12 July, 2017

डॉ. वेदप्रताप वैदिक

वरिष्ठ पत्रकार ।।

लालू को आप हीरोतो नहीं बना रहे?

लालूप्रसाद यादव और उनके परिवार के सदस्यों के यहां जो छापे पड़ रहे हैं, वे निश्चित रूप से राजनीति की वजह से पड़ रहे होंगे, वरना अकेले लालू को ही क्यों फंसाया जा रहा है? क्या देश में किसी भी पार्टी का कोई भी नेता ऐसा है, जो खम ठोक कर कहे कि मैं ईमानदार हूं। मैंने कभी कोई भ्रष्टाचार नहीं किया। मैंने हमेशा कानून का पालन किया है। मैंने कभी कोई अनैतिक काम नहीं किया है। कम से कम जान-बूझकर नहीं किया है।

इसका अर्थ यह नहीं कि लालू कोई महात्मा है या बेदाग है या बेकसूर है। वह तो पहले ही जेल की हवा खा चुका है। लेकिन आश्चर्य है कि बिहार के पिछले चुनाव में उनकी पार्टी को सबसे ज्यादा सीटें मिली हैं। अभी लालू पर जितने भी भ्रष्टाचार के आरोप लगे हैं, वे पता नहीं लालू के जीते-जी अदालतों में सिद्ध होंगे या नहीं, लेकिन एक तथ्य तो स्वयंसिद्ध है कि लालू और उनके बेटों, बेटी और दामाद के पास अरबों की संपत्ति है। यहां असली सवाल यही है कि ये संपत्तियां कैसे इकट्ठे हुईं?

यदि उन्हें इकट्ठा करते वक्त कानून का पालन हुआ तो भी इस प्रश्न का जवाब कहां है कि लालू-कुनबे में ऐसी कौनसी व्यापारिक या औद्योगिक प्रतिभा है कि अपने आपको गाय-भैंस चराने वाला, कहने वाले एक फूहड़ नेता के पास इतना पैसा इकट्ठा हो गया? यह सवाल अकेले लालू के लिए नहीं है, देश के छोटे-मोटे हजारों नेताओं के लिए हैं। आज हमारे नेताओं की इज्जत दो-कौड़ी की क्यों हो गई है? इसीलिए हो गई है। लालू-कुनबे पर जो छापे पड़ रहे हैं, वह बिल्कुल सही हो रहा है लेकिन यह पूरा सही तभी माना जाएगा जबकि महीने-दो महीने में पूरे कुनबे को आदर्श सजाहो याने ऐसी सजा कि जिसको सुनते से ही भावी भ्रष्टाचारियों की हड्डियां कांपने लगें।

इन अपराधियों की सारी चल-अचल संपत्तियां जब्त की जाएं, इनके समस्त नागरिक अधिकार छीन लिए जाएं और इन्हें कम से कम आजन्म कारावास दिया जाए। जरूरी यह है कि इस तरह के छापे सभी दलों के प्रमुख नेताओं और उनके रिश्तेदारों के यहां भी डाले जाएं और उन्हें भी ऐसी ही सजा दी जाए। सिर्फ बिहार में अपनी सरकार बनाने के लिए ये छापे मारे जाएंगे या ऐसा समझा जाएगा तो समझ लीजिए कि केंद्र सरकार लालू को हीरोबनाकर ही छोड़ेगी।


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।



पोल

गौरी लंकेश की हत्या के बाद आयोजित विरोधसभा के मंच पर नेताओ का आना क्या ठीक है?

हां

नहीं

पता नहीं

Copyright © 2017 samachar4media.com