भ्रामक विज्ञापनों से सेलिब्रिटी को दूर रखने के लिए ASCI के नए मानक

Tuesday, 18 April, 2017

समाचार4मी‍डिया ब्यूरो ।।

किसी भी ब्रैंड को चमकाने में सेलिब्रिटी का बहुत बड़ा योगदान होता है और मार्केटर्स इसका फायदा भी उठाते हैं, लेकिन किसी ब्रैंड का विज्ञापन करने से पहले सेलिब्रिटी की जिम्‍मेदारी भी बनती है कि वह सुनिश्चित कर लें कि जिस प्रॉडक्‍ट अथवा ब्रैंड के लिए वे काम कर रहे हैं, उसके विज्ञापन में किए गए दावे सही हैं और वे लोगों को गुमराह नहीं करते हैं।

इसी तरह की परेशानियों से बचने और उपभोक्‍ताओं के हितों को ध्‍यान में रखते हुए ऐडवर्टाइजिंग स्‍टैंडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया (ASCI) ने गाइडलाइंस तैयार की हैं, ताकि सेलिब्रिटी ऐसे विज्ञापनों का प्रचार करने से बच सकें जो लोगों को गलत जानकारी देकर गुमराह करते हैं और नियमों का उल्‍लंघन करते हैं।

नई गाइडलाइंस के बारे में ASCI के चेयरमैन श्रीनिवासन के स्‍वामी का कहना है, ‘कंज्‍यूमर पर सेलिब्रिटी का जबरदस्‍त प्रभाव होता है और वे जिस चीज का विज्ञापन करते हैं, उस पर लोग भरोसा भी करते हैं। ऐसे में ऐडवर्टाइजर्स और सेलिब्रिटी को ऐडवर्टाइजिंग की पॉवर को समझना चाहिए और अपनी जिम्‍मेदारी समझते हुए ऐसे प्रॉडक्‍ट का विज्ञापन नहीं करना चाहिए जो कंज्‍यूमर को गुमराह करते हों। ऐसे में ऐडवर्टाइजर्स और ऐड एजेसियों के अलावा सेलिब्रिटी के लिए भी इन गाइडलाइंस के बारे में जानना बहुत जरूरी है।’

ये हैं गाइडलाइंस

1: इन गाइडलाइंस के दायरे में वे उन व्‍यक्तियों को शामिल किया गया है जो ऐंटरटेनमेंट और स्‍पोर्ट्स के क्षेत्र से हों। इसके अलावा अन्‍य जानी-मानी हस्तियां जैसे डॉक्‍टर्स, लेखक, सामाजिक कार्यकर्ता, शिक्षाविद आदि को भी इस लिस्‍ट में शामिल किया गया है, जिन्‍हें विज्ञापन के बदले पैसा मिलता है।

2- जिन विज्ञापनों में सेलिब्रिटी शामिल होंगे, उन्‍हें सुनिश्चित करना होगा कि वे ASCI के नियमों का उल्‍लंघन नहीं कर रहे हैं। सेलिब्रिटी से भी ये उम्‍मीद की जाती है कि जिस चीज का वे विज्ञापन कर रहे हैं, उसके बारे में और नियमों के बारे में पूरी जानकारी हासिल कर लें। इसके अलावा ऐडवर्टाइजर्स अथवा एजेंसी की भी यह जिम्‍मेदारी है कि अपने जिस ब्रैंड में वह सेलिब्रिटी को शामिल कर रहा है, उसे इन सब बातों के बारे में जानकारी दे।

3- सेलिब्रिटी जिस प्रॉडक्‍ट अथवा सर्विस का विज्ञापन कर रहे हैं, उसके बारे में उन्‍हें पूरी जानकारी होनी चाहिए अथवा उन्‍हें उसका अनुभव भी होना चाहिए, तभी वह उस प्रॉडक्‍ट अथवा सर्विस के बारे में बेहतर तरीके से बता सकते हैं।

4- सेलिब्रिटी को भी यह जानने का प्रयास करना चाहिए कि जिस प्रॉडक्‍ट अथवा सर्विस का वह विज्ञापन कर रहा है, कहीं वह कंज्‍यूमर से छल अथवा उन्‍हें गुमराह करने वाला तो नहीं है।

सेलिब्रिटी को ऐसे किसी भी ऐडवर्टाइजमेंट का हिस्‍सा नहीं बनना चाहिए जो विज्ञापन के लिए वर्जित हो जैसे:

:  द ड्रग एंड मैजिक रेमेडीज (Objectionable Advertisements) एक्‍ट 1954

: द ड्रग एंड कॉस्‍मेटिक एक्‍ट 1940 और रूल्‍स 1945

: किसी प्रॉडक्‍ट पर स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी चेतावनी लिखी हुई हो।

समाचार4मीडिया देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया.कॉम में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।

 

पोल

आपको समाचार4मीडिया का नया लुक कैसा लगा?

पहले से बेहतर

ठीक-ठाक

पहले वाला ज्यादा अच्छा था

Copyright © 2017 samachar4media.com