इस वजह से अखबार वितरकों ने खाई कसम...

इस वजह से अखबार वितरकों ने खाई कसम...

Thursday, 21 September, 2017

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

हिंदी दैनिक हिन्दुस्तान ने इन दिनों एक अभियान चला रखा है मां कसम हिन्दुस्तान स्वच्छ रखेंगे हम। इस मुहिम से गाजियाबाद के विभिन्न समाचार पत्र वितरक भी जुड़ गए हैं।  इन पत्र वितरकों ने हिन्दुस्तान कार्यालय में बुधवार को शपथ ली कि वह शहर में गंदगी नहीं फैलाएंगे और न ही किसी को फैलाने देंगे।

उन्होंने कहा कि शहर का कोई ऐसा क्षेत्र नहीं है जहां वे लोग न पहुंचते हों। जहां लोग रहते हैं, वहां अखबार भी पढ़ा जाता है। जब लोग घरों में सो रहे होते हैं, तब समाचार पत्र वितरक गली के आखिरी घर तक अखबार पहुंचाते हैं। ऐसे में शहर कहां गंदगी है, उनसे ज्यादा कोई नहीं जानता। कार्यक्रम में वितरकों ने कहा कि अखबार बांटने के साथ अब अपने शहर को साफ करने की जिम्मेदारी भी लेनी होगी।  

समाचार पत्र वितरक बब्बर सिंह चौहान ने कहा कि सुबह अखबार की छंटाई व पैकिंग में सबसे ज्यादा कूड़ा निकलता है। सफाई की जिम्मेदारी यहीं से शुरू होती है। यदि हम सही प्रकार सफाई करंगे तो बाजार खुलने के बाद दुकानदार को कूड़ा नहीं मिलेगा। नरेंद्र गौड़ ने कहा कि सुबह समाचार वितरक अखबार के कूड़े-कचरे को यहां एकत्र कर देता है, वहीं लोग अपना कूड़ा डालने लगते हैं। उसके बाद जब तक नगर निगम के कर्मचारी उस कूड़े को नहीं उठाते लोग वहां कूड़ा डालते रहते हैं। संवाद में आए वितरकों ने शपथ ली कि वह अपने कार्यस्थल पर किसी भी हाल में गंदगी नहीं फैलने देंगे। इसके लिए वह अन्य साथियों को भी जागरूक करेंगे व उनसे गंदगी न फैलाने की अपील करेंगे। पत्र वितरकों ने कहा कि अब जरूरी हो गया है कि शहर को साफ रखने के लिए हर व्यक्ति अपनी जिम्मेदारी समझे। इसके लिए उन्होंने भी आगे आना होगा। 

नगर निगम को बताया जिम्मेदार

समाचार पत्र वितरकों ने कहा कि शहर की गंदगी के लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार नगर निगम है। निगम के कर्मचारी खुद ही गंदगी फैलाते हैं। वितरकों का कहना है कि वह सबसे पहले सुबह उठकर सड़कों पर निकलते हैं। रात के समय नगर निगम के कर्मचारी ही सड़कों के किनारे इस प्रकार कूड़ा डालते हैं कि वह सड़कों पर आ जाता है। इससे चलने से दिक्कत भी होती है। निगम यदि कूड़े के कलेक्शन सेंटरों को इस तरह बनाए कि कूड़ा सड़कों पर न आए तो कूड़ा फैलने की समस्या समाप्त हो जाएगी। समय से कूड़ा नहीं उठता। 

कुत्तों की समस्या से परेशान हैं वितरक 

सुबह सबसे पहले उठकर लोगों के घरों पर पहुंचने में समाचार वितरकों के सामने बड़ी समस्या कुत्तों की है। रोजाना कोई न कोई वितरक कुत्तों के काटने का शिकार होता है। नगर निगम लाख दावे करता है लेकिन आज तक आवारा कुत्तों पर कोई प्रतिबंध नहीं लगा सका। सुबह के समय तो कुत्ते ज्यादा परेशान करते हैं। 

पूरी खबर के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें-

http://epaper.livehindustan.com/epaper/Ghaziabad/Trans%20Hindon%20Live/2017-09-21/158/Page-26.html 


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।



Copyright © 2017 samachar4media.com