पढ़िए, कैसे दुनिया का सबसे बड़ा कब्रिस्तान बन जाएगा फेसबुक

Saturday, 12 March, 2016

सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक इस सदी के आखिर तक दुनिया का सबसे बड़ा डिजिटल कब्रिस्तानबन जाएगा। फेसबुक पर जिस तरह से जीवित लोगों की तुलना में मृत फेसबुक यूजर्स की संख्या बढ़ रही है, ऐसे में एक्सपर्ट का मानना है कि आने वाले कुछ दशकों में यह सोशल मीडिया एक डिजिटल ग्रेवयार्ड बन चुका होगा। एक रिपोर्ट के मुताबिक, 2098 तक फेसबुक के जिंदा यूजर्स की तुलना में मृत यूजर्स की संख्या में कहीं ज्यादा हो जाएगी। दरअसल फेसबुक ने उन यूजर्स को अकाउंट डिलीट करने से मना कर दिया है जो अब इस दुनिया में नहीं हैं। फिलहाल फेसबुक पर 1.5 बिलियन यूजर्स हैं। एक ऑनलाइन लेगेसी प्लॉनिंग कंपनी 'द डिजिटल बियांड' का कहना है कि इनमें से लाखों की संख्या ऐसे लोगों की हैं जो कि जीवित नहीं होंगे। इन यूजर्स की मौत के बाद लोग उनके प्रोफाइल्स को एक डिजिटल स्मारक या समाधि के तौर पर समझने लगते हैं। ऐसे लोगों की याद करने के लिए मृतकों के परिजन इन डिजिटल समाधियों पर आएंगे और उनके जीवन की बातों की यादें ताज करेंगे। अमेरिकी यूजर्स की मृत्यु दर के आंकड़ों से दुनिया के अन्य हिस्सों के यूजर्स के बारे में अनुमान लगाना भी उचित नहीं होगा। अमेरिका की 70 फीसदी से अधिक वयस्क जनसंख्या फेसबुक पर है और लोगों की मौतें अभी भी हो रही हैं। गौरतलब है कि वर्ष 2013 में वेब कॉमिक एक्सकेसीडी के रैंडल मुनरो ने इस बात का अनुमान लगाने की कोशिश की थी कि फेसबुक कब डिजिटल ग्रेवयार्ड (कब्रिस्तान) में बदल जाएगा। खैर लेगेसी कंपनी का दावा है कि इस साल दुनियाभर के 970000 फेसबुक यूजर्स दुनिया को अलविदा कह जाएंगे। 2010 में यह आंकड़ा 385968 था, जो 2012 में बढ़कर 580000 हो गया था।   समाचार4मीडिया देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया.कॉम में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।

पोल

आपको समाचार4मीडिया का नया लुक कैसा लगा?

पहले से बेहतर

ठीक-ठाक

पहले वाला ज्यादा अच्छा था

Copyright © 2017 samachar4media.com