टीवी, अखबार व रेडियो पर अब नहीं दिखाई देंगे इस तरह के विज्ञापन!

टीवी, अखबार व रेडियो पर अब नहीं दिखाई देंगे इस तरह के विज्ञापन!

Saturday, 14 April, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

आने वाले कुछ महीनों में हो सकता है कि आपको टीवी चैनल्सअखबार व रेडियो पर जंक फूड के विज्ञापन न दिखाई दें। दरअसल ऐसा इसलिए क्योंकि फूड रेग्यूलेटर एफएसएसएआई (FSSSI) ने केंद्र सरकार को ऐसे विज्ञापनों पर पूरी तरह से बैन लगाने का प्रस्ताव दिया है।

FSSSI का कहना है कि आलू चिप्सकोलाअचार और सभी रेडी-टू-ईट फूड में फैटचीनी और नमक की बहुत ज्यादा मात्रा होती हैजिससे बच्चों के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है। वहीं इनके विज्ञापन देखकर बच्चे सबसे ज्यादा प्रभावित होते हैं। 

वहीं यदि केंद्र सरकार FSSSI के प्रस्ताव को मान लेती है तो फिर इसका सबसे बुरा असर उन कंपनियों पर पड़ेगा, जो चिप्सबर्गरपिज्जाकोल्ड ड्रिंक आदि के विज्ञापन टीवी चैनल्स, अखबार और रेडियो पर देते हैं। इन कंपनियों में कोका कोलापेप्सीमैकडोनॉल्डबर्गर किंगपिज्जा हटडोमिनोजनेस्लेकैलॉग,हिन्दुस्तान यूनिलीवर आदि शामिल हैं।  

हालांकि इससे पहले यह खबर भी आई थी कि बच्चों को जंक फूड से हो रहे नुकसान से बचाने के लिए 9बड़ी कंपनियों ने खुद ही यह फैसला किया है कि वह अपने विज्ञापन कार्टून चैनल पर नहीं दिखाएंगी। बच्चे सबसे ज्यादा कार्टून चैनल देखते हैं और विज्ञापन उनके मन पर गहरा असर डालते हैं।

दरअसल, जंक फूड की वजह से बच्चों से लेकर युवाओं तक कई बीमारियां पनप रही हैं जिनमें मोटापा और ब्लड प्रेशर की समस्या आम है। एक सर्वे के मुताबिक ज्यादा जंक फूड खाने से डिप्रेशन की समस्या होने का मामला भी सामने आया था। 


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी रायसुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।



पोल

आपको 'फैमिली टाइम विद कपिल शर्मा' शो कैसा लगा?

'कॉमेडी नाइट्स...' की तुलना में खराब

नया फॉर्मैट अच्छा लगा

अभी देखा नहीं

Copyright © 2017 samachar4media.com