ASCI ने पतंजलि के अब इन दो अन्य विज्ञापनों को बताया भ्रामक...

Monday, 19 September, 2016

समाचार4मीडया ।।

बाबा रामदेव की एफएसीजी कंपनी पतंजलि और विज्ञपानों की निगरानी करने वाली संस्था एडवर्टाइजिंग स्टैंडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया यानि ASCI के बीच झगड़ा बढ़ता ही जा रहा है। जुलाई में पतंजलि ने वह नियामक के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की बात की थी, जिसके बाद अब कंपनी ने नियामक को अदालत में घसीट लिया है।

हालांकि इन सबके बीच, ASCI ने अपनी ताजा रिपोर्ट जारी कर दी, जिसमें फिर से पतंजलि के दो और विज्ञापनों को भ्रामक बताया है। ASCI की इस रिपोर्ट में कुल 159 शिकायतों में से 98 को सही पाया गया है और ASCI ने शिक्षा से लेकर ई-कॉमर्स तक इन सभी विज्ञापनों को रोकने को कहा है।

ASCI ने पतंजलि फ्रूट जूस और पतंजलि एनर्जी बार के विज्ञापन को भ्रामक बताया है। इससे पहले ASCI ने पतंजलि शहद के विज्ञापन पर भी रोक लगाई थी। ASCI की रिपोर्ट में पतंजलि के दंत कांति टूथपेस्ट और घी के विज्ञापन भी भ्रामक पाए गए थे।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 14 अगस्त को बाबा रामदेव ने नियामक के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया था, पतंजलि ने अपनी दलील में कहा है कि ASCI के पास कानूनी अधिकार नहीं है। हालांकि ASCI का कहना है कि वो बतौर सेल्फ रेगुलेटर काम करते रहेंगे।

समाचार4मीडिया देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया.कॉम में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।

 



पोल

गौरी लंकेश की हत्या के बाद आयोजित विरोधसभा के मंच पर नेताओ का आना क्या ठीक है?

हां

नहीं

पता नहीं

Copyright © 2017 samachar4media.com