‘फेक न्यूज’ से निपटने के लिए गूगल ने कसी कमर, बनाया ये प्लान...

Thursday, 22 March, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

ऑनलाइन फेक न्यूजसे निपटने की कवायद में जुटी कंपनियों के बीच गूगल ने अब एक नई पहल की है। गूगल के मुताबिक वह फेक न्यूज से निपटने के लिए अगले तीन सालों में 300 मिलियन डॉलर खर्च करेगी। इस पहल के तहत न्यूज पब्लिशर्स के साथ मिलकर गलत जानकारियों को इंटरनेट से हटाना और फेक न्यूज को रोकना भी शामिल है।

गूगल ने अपने एक ब्लॉग में फे न्यूज के प्रवाह को रोकने के लिए विस्तृत कार्ययोजना के बारे में जानकारी दी है। गूगल ने कहा कि वह अपने सिस्टम को इस तरह से ट्रेन कर रही है कि सही खबरों की पहचान करके असली और सटीक सर्च रिजल्ट दिखा सके। उदाहरण के तौर पर हाल ही में गूगल ने टेस्टिंग के मकसद से यूट्यूब में ब्रेकिंग न्यूज का सेक्शन ऐड किया है। 

गूगल ने कहा कि अखबारों के साथ मिलकर वह एक टूल सब्सक्राइब विद गूगल लॉन्च करेगा जो फेक न्यूज को रोकने में कारगर होगा। यह टूल ऑनलाइन अखबार पढ़ने वाले पाठकों को फेक न्यूज के बारे में अलर्ट करेगा। इसके लिए गूगल ने दुनिया के कई नामचीन अखबारों के साथ करार भी किया है। गूगल के ब्लॉग के अनुसार, कंपनी अगले कुछ वर्षों में विभिन्न समाचार पत्र प्रकाशकों के साथ इस तरह के सहयोग को बढ़ावा देगी।

गूगल के फेक न्यूज नियंत्रण प्रणाली का लाभ सिर्फ उन्हीं लोगों को मिल सकेगा, जो गूगल को सब्सक्राइब करेंगे। यानी ऑनलाइन अखबार पढ़ने के लिए आपको गूगल के जरिए ही विभिन्न वेबसाइटों तक जाना होगा। इसके तहत एक बार गूगल से लॉग-इन करने के बाद यूजर अपने सब्सक्राइब किए हुए सभी वेबसाइटों को मैनेज कर सकेगा। गूगल ने कहा है कि वह फाइनेंशियल टाइम्स’, ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’, ‘ली फिगारोऔर दी टेलिग्राफके साथ मिलकर यह टूल लॉन्च करेगा। गूगल का कहना है कि वह जल्द ही अन्य प्रकाशन समूहों के साथ भी ऐसी सहयोगात्मक करार करेगा। 

सर्च इंजन गूगल ऑनलाइन न्यूज टूल्स पर भी निवेश करने की तैयारी में है। गूगल ने यह भी कहा है कि कंपनी ने पहले ही अपने ऐल्गोरिद्म में कुछ बदलाव किए हैं ताकि गलत जानकारियों की पहचान की जा सके, लेकिन अब इससे ज्यादा किया जाएगा। गूगल ने इस 300 मिलियन डॉलर को अगले तीन साल तक निवेश करने का टार्गेट तय किया है और इसका मकसद फेक न्यूज और गलत जानकारियों से निपटना होगा।

गौरतलब है कि गूगल और फेसबुक पर फर्जी खबरों और गलत जानकारियों को न रोक पाने का आरोप लगातार लगता रहा है। इसमें गूगल की विडियो वेबसाइट यूट्यूब भी शामिल है जिस पर फर्जी विडियोज डालने के आरोप लगते रहे हैं। गूगल इस नई पहल के तहत अपने सभी प्लेटफॉर्म से फेक न्यूज को पहचान कर उससे निपटने का काम करेगा।


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। 



पोल

रात 9 बजे आप हिंदी न्यूज चैनल पर कौन सा शो देखते हैं?

जी न्यूज पर सुधीर चौधरी का ‘DNA’

आजतक पर श्वेता सिंह का ‘खबरदार’

इंडिया टीवी पर रजत शर्मा का ‘आज की बात’

इंडिया न्यूज पर दीपक चौरसिया का 'टू नाइट विद दीपक चौरसिया'

न्यूज18 हिंदी पर किशोर आजवाणी का ‘सौ बात की एक बात’

एबीपी न्यूज पर पुण्य प्रसून बाजपेयी का ‘मास्टरस्ट्रोक’

एनडीटीवी इंडिया पर रवीश कुमार का ‘प्राइम टाइम’

न्यूज नेशन पर अजय कुमार का ‘Question Hour’

Copyright © 2017 samachar4media.com