टीवी चैनलों ने दिखाए अब इस तरह के विज्ञापन, तो खैर नहीं...

Friday, 28 July, 2017

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

टीवी चैनलों पर इन दिनों गलत तरीके से आयुर्वेदिक, सिद्ध यूनानी और होम्योपैथिक उत्पादों और दवाओं को बेचा जा रहा है, जिस पर संज्ञान लेते हुए केंद्र सरकार ने सख्त रुख अपना लिया है। केंद्र सरकार ने सभी टीवी चैनलों को यह चेतावनी दी है कि वे इस तरह के उत्पादों और दवाओं के बारे में गलत या बढ़ा-चढ़ाकर किए गए दावे वाले विज्ञापनों का प्रसारण न करें।

सूचना-प्रसारण मंत्रालय के निदेशक अमित कटोच द्वारा जारी परामर्श के अनुसार चैनलों को केवल उन उत्पादों और दवाओं का विज्ञापन करना चाहिए जिनके पास वैध लाइसेंस हों। ऐसा नहीं होने पर कार्रवाई की जा सकती है।

दरअसल, आयुष मंत्रालय ने सूचना-प्रसारण मंत्रालय से कहा था कि कुछ चैनल इस प्रकार की दवाओं के गलत दावे वाले विज्ञापन प्रसारित कर रहे हैं जिसके बाद यह कदम उठाया गया है।

परामर्श में कहा गया है कि इस तरह के विज्ञापन उपभोक्ताओं को गुमराह कर रहे हैं। इतना ही नहीं, इससे खुद ही दवा लेने के चलन के साथ स्वास्थ्य संबंधी खतरे पैदा हो रहे हैं। यह भी कहा गया है कि इस तरह के विज्ञापनों या कार्यक्रमों में स्वघोषित डॉक्टर, गुरु और वैद्य स्वास्थ्य समस्याओं के चमत्कारक समाधान सुझाते हैं।

ऐसे उत्पादों व दवाओं के गुमराह करने वाले विज्ञापन दवा और जादुई उपचार रोकथाम (आपत्तिजनक विज्ञापन) अधिनियम 1954 और ड्रग्स और कॉस्मेटिक कानून 1940का उल्लंघन करने वाले हैं।


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।

पोल

'कॉमेडी नाइट विद कपिल शर्मा' शो आपको कैसा लगता है?

बहुत अच्छा

ठीक-ठाक

अब पहले जैसा अच्छा नहीं लगता

Copyright © 2017 samachar4media.com