‘Star India’ के सीईओ ने बताया, क्‍यों लगाई IPL में इतनी बड़ी रकम

‘Star India’ के सीईओ ने बताया, क्‍यों लगाई IPL में इतनी बड़ी रकम

Tuesday, 05 September, 2017

रोनल्ड मेनेझिस ।।

तमाम कयासों पर विराम लगाते हुए ‘स्‍टार इंडिया’ (Star India) ने 16347.50 करोड़ रुपये में ‘इंडियन प्रीमियर लीग’ (IPL) के टेलिविजन और डिजिटल प्रसारण के अधिकार हासिल कर लिए हैं।

आईपीएल के प्रसारण अधिकार जीतने के बाद स्‍टार इंडियाके सीईओ उदय शंकर ने एक प्रेसवार्ता में अपना आभार व्‍यक्‍त किया। उन्‍होंने प्रसारण अधिकार देने के लिए बीसीसीआई’ (BCCI) द्वारा अपनाई गई प्रक्रिया की भी तारीफ की। उन्‍होंने कहा, ‘अपना पार्टनर बनाने और हमारे ऊपर भरोसा जताने के लिए मैं बीसीसीआईको धन्‍यवाद देता हूं। हमारा मानना है कि आईपीएल काफी पॉवरफुल इवेंट है और इसमें बहुत ज्‍यादा संभावनाएं हैं, जिनके द्वारा टीवी के साथ-साथ डिजिटल पर भी प्रशंसकों और दर्शकों को अपनी ओर खींचा जा सकता है। हमारा हमेशा यही प्रयास रहेगा कि देश में खेलों का विकास जारी रहे।

यह पूछे जाने पर कि अगले साल मार्च के अंत में भारतीय क्रिकेट टीम के प्रसारण अधिकार समाप्‍त होने के बाद नए अधिकार मिलने के बारे में स्‍टार का क्‍या मानना है और इस बारे में वह कितना गंभीर है,  उदय शंकर ने कहा, ‘अभी मुझे थोड़ा ब्रेक दीजिए। अभी तो हमने आईपीएल के अधिकार खरीदे हैं। हमारे पास कुछ समय के लिए ही भारतीय टीम के प्रसारण अधिकार हैं और इसके बाद बीसीसीआई को इस बारे में निर्णय लेना है। आपने देखा ही है कि बीसीसीआई के क्रिकेट अधिकार कितने प्रतिस्‍पर्धी हैं। इस बार हमें जिस तरह आईपीएल के अधिकार मिले हैं, उससे आप अगली बार अधिकारों के लिए होने वाले कंप्‍टीशन का अंदाजा लगा सकते हैं। मेरे लिए उस बारे में अभी कोई भी टिप्‍पणी करना सही नहीं होगा। अभी आईपीएल और आईसीसी के बीच बहुत क्रिकेट खेला जाना है और मुझे लगता है कि हम इनके द्वारा काफी अच्‍छा बिजनेस कर सकते हैं।

यह पूछे जाने पर कि वर्ष 2008 में सोनी द्वारा हासिल किए गए आईपीएल के प्रसारण अधिकारों की तुलना में क्‍या इस बार यानी वर्ष 2017 में कीमत कुछ ज्‍यादा थी, उदय शंकर ने कहा, ‘यदि यह रकम थोड़ी भी कम होती तो हम इन अधिकारों को हासिल नहीं कर पाते। ऐसे में आप कह सकते हैं कि यह सही आंकड़ा है। जब कोई भी कंपनी ज्‍यादा नीलामी लगाती तो आप इस बात को कह सकते थे। लेकिन आपने देखा होगा कि सभी कैटेगरी में काफी प्रतिस्‍पर्धा थी। और इससे पता चलता है कि देश में क्रिकेट लगातार काफी मजबूत और आकर्षक होता जा रहा है। ऐसे में जो भी इसमें पैसा लगाता है, वह खेल के प्रशंसकों में विश्‍वास रखता है। यदि हम 2008 की बात करें तो इतने समय में क्रिकेट, इंडिया और आईपीएल काफी बदल चुके हैं।’ वहीं, उदय शंकर ने इस सवाल का जवाब देने से इनकार कर दिया कि नीलामी के दौरान क्‍या अपने प्रतिस्‍पर्धियों की तुलना में स्‍टार काफी बेहतर स्थिति में था।

उन्‍होंने पत्रकारों से कहा, ‘मैं इस बारे में कुछ नहीं कहूंगा, यह आपका काम है ओर आप इस बारे में खुद अंदाजा लगा सकते हैं। हालांकि यदि आप हमारी रकम को देखें तो हमने काफी सोच-समझकर यह फैसला लिया है। हमारे पास अभी टेलिविजन और डिजिटल प्‍लेटफॉर्म है, जिससे हम पूरी दुनिया में इसे दिखाएंगे। हमने सभी चीजों को सोच-समझकर ही यह निर्णय लिया है। मेरा मानना है कि सभी लोग अपने क्षेत्रों में मजबूती से काम करेंगे और अपना श्रेष्‍ट देंगे।

इसके साथ ही बीसीसीआई से जुड़े तमाम विवादों पर कुछ भी कहने से इनकार करते हुए उदय शंकर ने कहा कि वह अभी सिर्फ खेल के ब्रॉडकास्टिंग पहलू पर फोकस कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा, ‘चाहे जो भी हो, भारत ऐसा देश है कि जब भी कोई मैच होता है, तो उसका अपना अलग ही मजा होता है और हमारे लिए वह अनुभव खास होता है। यह लोगों के सहयोग के कारण और टीवी पर मैच देखने वाले दर्शकों के कारण होता है और हमारे लिए वही महत्‍वपूर्ण है।

 

समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।



पोल

गौरी लंकेश की हत्या के बाद आयोजित विरोधसभा के मंच पर नेताओ का आना क्या ठीक है?

हां

नहीं

पता नहीं

Copyright © 2017 samachar4media.com