पुलिस ने ANI की खबर को बताया फर्जी, पत्रकारों से की ये अपील...

Saturday, 03 February, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

उत्तर प्रदेश के कासगंज में 26 जनवरी को तिरंगा यात्रा के दौरान हुई हिंसा में मारे गए चंदन गुप्ता के पिता को कथित तौर पर धमकी मिलने के मामले में नया मोड़ आ गया है। जिले के पुलिस अधीक्षक ने मृतक के पिता को धमकी मिलने की खबर को गलत बताया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कासगंज के एसपी ने बताया कि देश की प्रतिष्ठित न्यूज एजेंसी ANI ने चंदन के पिता को धमकी देने वाली फर्जी खबर  चलाई है। कासगंज के पुलिस अधीक्षक पीयूष श्रीवास्तव ने इस बात की पुष्टि करते हुए संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने इस मामले पर दिल्ली में स्थित एएनआई के वरिष्ठ अधिकारियों से बातचीत में अपनी नाराजगी व्यक्त की है।

दरअसल मीडिया में ऐसी खबरें थीं कि बीते गुरुवार को मृतक चंदन के पिता सुशील गुप्ता ने कासगंज थाने में धमकी की शिकायत दर्ज करायी थी। अपनी शिकायत में उन्होंने कहा था कि अराजक तत्वों ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी है। इस धमकी के बाद उनके परिवार में खौफ का माहौल है। सुशील गुप्ता की शिकायत के बाद उनकी घर की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

इसी मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक पीयूष श्रीवास्तव ने मीडिया को बताया, 'मेरी मृतक के पिता से बात हुई है। उन्होंने बताया कि सड़क पर मोटरसाइकल पर दो लड़के जा रहे थे, वे ऐसा कह रहे थे। मैंने उनसे कहा कि आप लिखित में दे दीजिए कि आपकी जान को खतरा है तो मुकदमा कायम करके आवश्यक कार्रवाई की जाए लेकिन उन्होंने कुछ भी लिखकर देने से मना कर दिया।'

पीयूष श्रीवास्तव ने पत्रकारों से कहा कि ऐसी भी बातें सामने आई हैं कि कुछ लोगों द्वारा दबाव या हेरफेर कर चंदन के पिता से धमकी वाला बयान दिलवाया गया। ऐसे आरोपों की भी जांच की जा रही है। इसके साथ ही पीड़ित परिवार को सुरक्षा दे रखी है।

उन्होंने पत्रकारों को बताया न्यूज एजेंसी ANI के संवाददाता ने बिना आधिकारिक वर्जन लिए धमकी की खबर चला दी थी। इस मामले में हमने एजेंसी के दिल्ली स्थित मुख्यालय में बात की है और उनसे कहा है कि कासगंज की कोई भी खबर हो तो हमारा आधिकारिक वर्जन जरूर रखें। यह काफी संवेदनशील मामला है। ऐसी समस्या भी हो रही है कि मीडिया में खबर आने से परेशानियां बढ़ती हैं। उन्होंने कहा कि साथ ही उनके खिलाफ एक लिखित रिपोर्ट भी भेज रहा हूं, ताकि भविष्य में ऐसी घटना को दोहराया ना जाए।

उन्होंने पत्रकारों से भी यह अपील की कि जब भी वे इस मामले से जुड़ी कोई भी खबर चलाते हैं, तो कृपया उनकी आधिकारिक प्रतिक्रिया भी चलाएं।

 

समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। 



Copyright © 2017 samachar4media.com