IPL का ऐसा दम: कभी खुशी, कभी गम...

Thursday, 17 May, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

आईपीएल का 11वां सीजन लगभग खत्म होने की कगार पर पहुंच गया है। अभी तक खेले जा चुके कई मैचों में रोमांच भी देखने को मिला, फिर भी इसके ब्रॉडकास्टर ‘स्टार इंडिया’ अन्य मैचौं को लेकर काफी चिंतित है। दरअसल इसकी बड़ी वजह घटती लोकप्रियता और देरी से खत्म होते मैचों का प्रसारण हैं।  

आईपीएल मैच नियमित रूप से 11:55 बजे यानी आधी रात के करीब खत्म हो रहे हैं, जिसकी वजह से कई दर्शक मैच अंतिम चरणों पर पहुंचने के बावजूद भी अपना टीवी बंद कर देते हैं और इस वजह से 11 बजे के बाद चैनल की टीआरपी कम हो रही है। वहीं अहम बात यह है कि मैचों के देर से खत्म होने के कारण कुल मिलाकर लोगों की टी20 में दिलचस्पी पर भी असर पड़ रहा है।

स्टार इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर संजय गुप्त ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि इस समयावधि के दौरान टीआरपी लगभग 40-50 फीसदी तक कम हो जाती है।

वैसे यहां बता दें कि इंटरनैशनल क्रिकेट काउंसिल के नियमों मुताबिक, टी20 की पारी खत्म होने में 75 मिनट से अधिक का समय नहीं लगना चाहिए, लेकिन आईपीएल में यह सीमा कई बार लांघी जा चुकी है। रात में आठ बजे शुरू हो रहे मैच खत्म होने में लगभग चार घंटे का समय ले रहे हैं, लेकिन रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु पर लगे 12 लाख रुपए के जुर्माने को छोड़ दिया जाए, तो स्लो ओवर रेट को लेकर आईपीएल में इस बार ज्यादा सख्ती बरतती दिखाई नहीं दी है।

गौरतलब है कि स्टार इंडिया ने 16,347.5 करोड़ रुपए की भारी भरकम कीमत में पांच सालों के लिए आईपीएल के मीडिया राइट्स खरीदे हैं। आईपीएल का प्रसारण स्टार नेटवर्क के 10 चैनलों पर किया जा रहा है, लेकिन फिर भी रेटिंग्स पिछली साल की तुलना में अभी भी काफी कम है।  

संजय गुप्त ने बताया कि यह गिरावट रात 10 बजकर 45 मिनट से शुरू होती है, जो करीब 25 प्रतिशत घट जाती है और इसके बाद गिरावट का सिलसिला बढ़ता रहता है। उन्होंने कहा कि वैसे तो मैच के अंतिम आधे घंटे में दर्शकों की संख्या सबसे ज्यादा होनी चाहिए, लेकिन ऐसा नहीं होता है। आप इसकी तुलना अपॉर्चुनिटी कॉस्ट से करें तो यह गैप 50 फीसदी से ज्यादा होगा। उन्होंने कहा कि बड़े शहरों और छोटे शहरों का एक बड़ा वर्ग रात को करीब 11 से 11.30 बजे सोने चला जाता है, यहां तक कि एंटरटेनमेंट प्रोग्राम्स की भी सबसे ज्यादा रेटिंग्स 10 बजे की ही होती है।  

गुप्त ने यह उम्मीद जताते हुए कहा कि यदि आगे खेले जाने वाले मैच समय से पहले यानी 7 बजे तक शुरू हो जाते हैं तो दर्शकों की संख्या में 7-8 फीसदी की वृद्धि देखने को मिल सकती है और इस वजह से ओवरऑल यह वृद्धि 48 से 49 प्रतिशत तक चली जाएगी। ये ताकत है सिर्फ एक घंटे की।

गौरतलब है कि स्टार इंडिया ने आईपीएल शुरू होने से पहले भी बीसीसीआई से इस बात को लेकर संपर्क किया था कि मैच को एक घंटे पहले शुरू किया जाए।

उल्लेखनीय है कि आईपीएल के चेयरमैन राजीव शुक्ला ने पिछले हफ्ते ही इसी सिलसिले में ‘द इंडियन एक्सप्रेस’ को बताया कि कुछ फ्रेंचाइजी टाइमिंग को लेकर इतने उत्सुक नहीं दिखाई दिए थे, क्योंकि उनका कहना था कि स्टेडियम 7 बजे तक नहीं भरता है।


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी रायसुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। 



पोल

रात 9 बजे आप हिंदी न्यूज चैनल पर कौन सा शो देखते हैं?

जी न्यूज पर सुधीर चौधरी का ‘DNA’

आजतक पर श्वेता सिंह का ‘खबरदार’

इंडिया टीवी पर रजत शर्मा का ‘आज की बात’

न्यूज18 हिंदी पर किशोर आजवाणी का ‘सौ बात की एक बात’

एबीपी न्यूज पर पुण्य प्रसून बाजपेयी का ‘मास्टरस्ट्रोक’

एनडीटीवी इंडिया पर रवीश कुमार का ‘प्राइम टाइम’

न्यूज नेशन पर अजय कुमार का ‘Question Hour’

Copyright © 2017 samachar4media.com