MIB ने इन दो न्‍यूज चैनलों पर लगाया प्रतिबंध, बताया ये कारण

MIB ने इन दो न्‍यूज चैनलों पर लगाया प्रतिबंध, बताया ये कारण

Thursday, 14 December, 2017

समाचार4मी‍डिया ब्यूरो ।।

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय’ (MIB) ने कंटेंट के नियमों की अवहेलना के आरोप में असम के दो न्‍यूज चैनलों पर प्रतिबंध लगाने के आदेश दिए हैं। मंत्रालय की ओर से जिन दो चैनलों पर कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं, उनमें असम का न्‍यूज चैनल ‘DY 365’ और गुजरात का न्‍यूज चैनल ‘VTV’ शामिल है। 

इस कार्रवाई के तहत मंत्रालय ने ‘DY 365’ पर 15 से 18 दिसंबर तक तीन दिनों के लिए देश भर में किसी भी प्‍लेटफार्म पर ट्रांसमिशन और री-ट्रांमिशन पर रोक लगा दी है। वहीं, ‘VTV’ के मामले में मंत्रालय ने 16 से 17 दिसंबर तक एक दिन के लिए यह रोक लगाई है। मंत्रालय के आंतरिक मामलों की समिति (IMC) ने जांच के बाद यह प्रतिबंध लगाया है।

मंत्रालय के अनुसार, ‘DY 365’ पर आरोप है कि उसने चार जून को एक न्‍यूज रिपोर्ट प्रसारित की थी, जिसमें एक आदमी एक अनुष्‍ठान के दौरान नवजात बच्‍चे को हवा में उछाल रहा है। वह बिना बच्‍चे की सुरक्षा कर उसे हवा में इधर-उधर घुमा रहा था। मंत्रालय का मानना है कि इस विडियो कि असम के कुछ हिस्सों में कथित तौर पर एक बेहद खतरनाक अंधविश्वास का पर्दाफाश किया गया, जहां लोग मानते हैं कि इस अनुष्ठान के तहत बच्चे को सुरक्षित रखा जाएगा। मंत्रालय के अनुसार, वीडियो का आशय है कि असम के कुछ हिस्सों में कथित तौर पर एक बेहद खतरनाक अंधविश्वास का पर्दाफाश किया गया, जहां लोग मानते हैं कि इस अनुष्ठान के तहत बच्चे को सुरक्षित रखा जाएगा। लेकिन जिस तरह का वि‍डियो दिखाया गया वह विचलित करने वाला था और इसे प्रसारित नहीं करना चाहिए था।

वहीं, ‘VTV’ के मामले में मंत्रालय का कहना है कि चैनल ने 20 मार्च को वायरल सचके नाम से एक कार्यक्रम प्रसारित किया था जिसमें एक व्‍यक्ति अनाथालय में बच्चों को क्रूरता से पीट रहा है। इस विडियो ने सोशल मीडिया पर ट्रेंड करना शुरू कर दिया था, जिसमें आरोप लगाया गया था यह घटना गुजरात के एक स्‍कूल में हुई है। हालांकि जब चैनल ने इस वि‍डियो की सत्‍यता की जांच की तो पता चला कि यह विडियो मिस्र का है। लेकिन रिपोर्टिंग के दौरान चैनल ने ऐसा विडियो प्रसारित किया, जिसे देखकर लोग विचलित हो गए। मंत्रालय के अनुसार, ऐसा लगता है कि चैनल ने यह विडियो सनसनी फैलाने और दर्शकों का ध्‍यान अपनी ओर आकर्षित करने के लिए प्रसारित किया था। इसलिए चैनल के खिलाफ यह कार्रवाई की गई है।


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। 



Copyright © 2017 samachar4media.com