मोदी सरकार ने मीडिया में विज्ञापनों पर खर्च किए अरबों रुपए...

Tuesday, 15 May, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने पिछले चार वर्षों के दौरान अपनी योजनाओं के प्रचार-प्रसार के लिए जमकर पैसा बहाया। सरकार ने विभिन्न मीडिया के जरिए केवल प्रचार और विज्ञापनों पर 4,343.26 करोड़ रुपए की भारी भरकम राशि खर्च की है। ये जानकारी मुंबई के आरटीआई कार्यकर्ता अनिल गलगली ने सूचना के अधिकार के तहत हासिल की है।


गलगली ने केंद्र सरकार के ब्यूरो ऑफ आउटरीच एंड कम्युनिकेशन (बीओसी) से मौजूदा सरकार के कार्यालय संभालने के वक्त से मीडिया में विज्ञापन और प्रचार पर खर्च की गई रकम की जानकारी मांगी थी।


बीओसी के वित्तीय सलाहकार तपन सूत्रधार ने जून 2014 से अब तक हुए खर्च पर जानकारी दी है। जानकारी के मुताबिक, प्रचार की मद में भारी भरकम खर्च का खुलासा हुआ है।


प्रचार माध्यम  2014-15 (करोड़ रु.) 2015-16  (करोड़ रु.) 2016-17 (करोड़ रु.) 2017-18 (करोड़ रु.)
प्रिंट मीडिया
424.85
510.69
463.38
323.23 (अप्रैल-दिसंबर 2017)
इलेक्ट्रॉनिक मीडिया
448.97
541.99
613.78
475.13
आउटडोर मीडिया
79.72
118.43
185.99
147.10
कुल
953.54
1,171.11
1,263.15
955.47


आलोचनाओं के बाद कैसे आई गिरावट-


आरटीआई के मुताबिक, जून 2014 से मार्च 2015 तक सरकार ने प्रिंट मीडिया पर 424.85 करोड़ रुपए, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर 448.97 करोड़ रुपए और आउटडोर प्रचार पर 79.72 करोड़ रुपए खर्च किए। कुल मिलाकर यह रकम 953.54 करोड़ रुपए होती है।


वहीं अगले वित्त वर्ष 2015-2016 में सभी मीडिया पर वास्तविक खर्च में वृद्धि हुई। इसमें प्रिंट मीडिया पर 510.69 करोड़ रुपए, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर 541.99 करोड़ रुपए और आउटडोर प्रचार पर 118.43 करोड़ रुपए खर्च किए गए। कुल मिलाकर यह राशि 1,171.11 करोड़ रुपए होती है। 


गलगली ने कहा कि सरकार की चौतरफा आलोचना के कारण 2017 में प्रचार खर्च में थोड़ी कमी आई है।2016-17 में प्रिंट माध्यम पर खर्च में पहले वित्त वर्ष की तुलना में गिरावट दर्ज की गई। इस दौरान 463.38 करोड़ रुपए प्रिंट माध्यम से प्रचार और विज्ञापन पर खर्च हुए। जबकि इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर खर्च बढ़ा दिया गया। इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के जरिए प्रचार पर 613.78 करोड़ रुपए खर्च किए गए। जबकि आउटडोर मीडिया पर 185.99 करोड़ रुपए खर्च किए गए। कुल मिलाकर इस वर्ष के दौरान विज्ञापन और प्रचार पर 1,263.15 करोड़ रुपए खर्च किए गए।

 

अप्रैल 2017 से मार्च 2018 तक इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर इसके पहले के साल के दौरान किए गए खर्च की तुलना में काफी कमी देखी गई। इस साल इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर 475.13 करोड़ रुपए और आउटडोर प्रचार पर 147.10 करोड़ रुपए खर्च किए गए। आरटीआई के जवाब में कहा गया है कि अप्रैल-दिसंबर 2017 (नौ महीने की अवधि) के दौरान सरकार ने अकेले प्रिंट माध्यम पर 333.23 करोड़ रुपए खर्च किए और पिछले वित्त वर्ष (अप्रैल 2017-मार्च 2018) में कुल 955.47 करोड़ रुपए खर्च किए गए।

 


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी रायसुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।  



पोल

रात 9 बजे आप हिंदी न्यूज चैनल पर कौन सा शो देखते हैं?

जी न्यूज पर सुधीर चौधरी का ‘DNA’

आजतक पर श्वेता सिंह का ‘खबरदार’

इंडिया टीवी पर रजत शर्मा का ‘आज की बात’

न्यूज18 हिंदी पर किशोर आजवाणी का ‘सौ बात की एक बात’

एबीपी न्यूज पर पुण्य प्रसून बाजपेयी का ‘मास्टरस्ट्रोक’

एनडीटीवी इंडिया पर रवीश कुमार का ‘प्राइम टाइम’

न्यूज नेशन पर अजय कुमार का ‘Question Hour’

Copyright © 2017 samachar4media.com