वरिष्‍ठ पत्रकार करण थापर ने बताई ‘INDIA TODAY’ से अलग होने की ये वजह...

वरिष्‍ठ पत्रकार करण थापर ने बताई ‘INDIA TODAY’ से अलग होने की ये वजह...

Saturday, 04 November, 2017


रुहैल अमीन ।।

वरिष्‍ठ पत्रकार और टेलिविजन एंकर करण थापर इंटरव्‍यू लेनी की अपनी विशिष्‍ट शैली के लिए जाने जाते हैं। वह सीधे-सीधे बिना लाग लपेट के बात करते हैं और सामने वाले को कई बार अपने तीखे सवालों से असहज भी कर देते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब गुजरात के मुख्‍यमंत्री थे, उस दौरान एक इंटरव्‍यू में करण थापर के सवालों से परेशान होकर वह उठ खड़े हुए थे। 

हाल ही में दिल्‍ली-एनसीआर में एक कार्यक्रम के दौरान हमें उनसे बात करने का मौका मिला, जहां हमने उनसे कई मुद्दों पर बातचीत की। जब हमने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस फेमस इंटरव्‍यू के बारे में पूछा तो उन्‍होंने बताया कि सवालों को दूसरे तरह से पूछकर इस तरह की स्थिति से बचा जा सकता था।  

थापर ने कहा, ‘मोदीजी बहुत भले व्‍यक्ति हैं। मुझे लगता है कि वह शायद इस बात से अपसेट थे, क्‍योंकि उन्‍होंने नहीं सोचा था कि मैं सवालों की शुरुआत ही वर्ष 2001-02 के बारे में करूंगा। मुझे लगता है कि चीजों पर घुमा-फिराकर भी बात की जा सकती है।

अब तक कई राजनेताओं का इंटरव्‍यू कर चुके थापर से जब हमने उनके अनुभव का सार पूछा तो उनका कहना था, ‘मैं राजनेताओं की इस बारे में प्रशंसा करना चाहता हूं कि वे लगातार किसी भी विषय पर बोल सकते हैं और आप नहीं समझ सकते हैं कि वे कब चुप होंगे।

थापर ने अपने उस इंटरव्‍यू के बारे में भी बात की जब मशहूर क्रिकेट खिलाड़ी कपिल देव फूट-फूटकर रोने लगे थे। करण ने बताया, ‘यह 25 मिनट का इंटरव्‍यू था जिसे बिना ब्रेक के रिकॉर्ड किया गया था। कपिल ने 11वें मिनट में ही रोना शुरू कर दिया था और मेरे लिए यह काफी अजीब बात थी। पर मैंने उन्हें रोने से नहीं रोका क्योंकि कोई भी बड़े सेलिब्रिटी का इस तरह का व्यवहार होगा तो इंटरव्यू करने वाले को लगेगा कि ये चलता रहे । मैंने सोचा कि मुझे अपनी आवाज को और सौम्‍य करना चाहिए लेकिन कड़े सवाल पूछना जारी रखना चाहिए। इस दौरान कपिल देव करीब 15 मिनट तक रोते रहे।

टू द प्वाइंटनामक चर्चित शो होस्ट करने वाले करण थापर का अप्रैल में इंडिया टुडे चैनल पर आने वाला ये शो खत्म होने के बाद से अफवाह उड़ी हुई हैं कि उन्‍हें विभिन्‍न विषयों पर अपने राजनीतिक रुख को छोड़ने के लिए कहा गया था, जिसके चलते उनका शो ऑफएयर हो गया।

इन सभी अटकलों पर विराम लगाते हुए करण ने बताया कि उनके और इंडिया टुडे प्रबंधन के बीच आखिर ऐसा क्‍या हुआ जिस वजह उन्‍हें अलग होना पड़ा।

करण थापर का कहना था, ‘यह शो ऑफ एयर नहीं किया गया है। इंडिया टुडे के साथ मेरा करार अप्रैल में खत्‍म हो गया था और हम दोनों ने ही आपसी सहमति से एक-दूसरे से अलग होने का फैसला किया था। मेरा करार टर्मिनेट नहीं किया गया था। इसमें कोई छिपाने वाली बात नहीं है कि विभिन्‍न विषयों पर हमारी अलग सोच थी।

 

समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी रायसुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।



पोल

क्या संजय लीला भंसाली द्वारा कुछ पत्रकारों को पद्मावती फिल्म दिखाना उचित है?

हां

नहीं

Copyright © 2017 samachar4media.com