इस सर्वे से मचा बवाल तो सरकार ने अखबार को ही किया बंद...

इस सर्वे से मचा बवाल तो सरकार ने अखबार को ही किया बंद...

Wednesday, 13 September, 2017

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में सबसे अधिक बिकने वाले एक उर्दू अखबार पर यहां की सरकार ने ताला जड़ दिया है और वह भी सिर्फ इसलिए, क्योंकि अखबार ने एक सर्वे कराया था। दरअसल, इस सर्वे के रिजल्ट ने पाकिस्तान की कलई खोल कर रखी दी, जिससे नाराज होकर पाकिस्तान सरकार ने अखबार को ही बंद करवा दिया।

उर्दू अखबार डेली मुजादालापाक अधिकृत कश्मीर के शहर रावलकोट में प्रकाशित होता था। इस अखबार ने पीओके में रहने वाले लोगों के बीच सर्वे कराया था, इस सर्वे में लोगों से पूछा गया था कि वह पाकिस्तान में रहना चाहते हैं? मीडिया रिपोर्टर के मुताबिक, करीब 73% लोगों ने पाकिस्तान के खिलाफ मतदान किया। यह खबर सामने आने के बाद पाकिस्तान में उथल-पुथल मच गई, जिसके चलते इस अखबार पर रोक लगा दी गई।

अखबार के एडिटर हारिस क्वादर ने अंग्रेजी न्यूज चैनल 'रिपब्लिक टीवी' को बताया कि हमने लोगों से 2 सवाल पूछे थे। पहला यह कि, क्या लोग 1948 के कश्मीर के स्टेटस को बदलना चाहते हैं? इस पर ज्यादातर लोगों ने सहमति जताई। फिर लोगों से दूसरा सवाल पूछा गया कि, क्या वह पाकिस्तान में रहना चाहते हैं? इसमें नजर आया कि 73% लोग पाकिस्तान से आजादी चाहते हैं।

उन्होंने बताया कि इस सर्वे के प्रकाशित होने के बाद पाक सरकार ने दफ्तर में नोटिस भेजकर पहले तो उन्हें डराया और फिर ताला लगा दिया।

बता दें कि यह सर्वे लगभग 10 हजार लोगों पर किया गया था। इस सर्वे को करने में करीब 5 साल का समय लगा। इस सर्वे से इस बात की पुष्टि हो गई कि पाक अधिकृत कश्मीर में ज्यादातर लोग भारत में रहना चाहते हैं।

  

समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।



पोल

क्या संजय लीला भंसाली द्वारा कुछ पत्रकारों को पद्मावती फिल्म दिखाना उचित है?

हां

नहीं

Copyright © 2017 samachar4media.com