पत्रकार राजेश मिश्रा हत्याकांड मामले में पुलिस के हाथ लगी ये बड़ी कामयाबी...

Saturday, 06 January, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में दैनिक जागरण के पत्रकार राजेश मिश्रा हत्याकांड मामले में गाजीपुर पुलिस को एक बड़ी सफलता मिली है। दरअसल हत्याकांड का आरोपी व 10 हजार रुपए का इनामी बदमाश पवन यादव को पुलिस ने शुक्रवार सुबह करंडा थाना क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया है। बदमाश के पास से एक तमंचा, दो जिंदा कारतूस, हत्याकांड में प्रयुक्त मोटर साइकिल बरामद हुई है।

पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में एसपी सिटी प्रदीप कुमार ने बताया कि 21 अक्टूबर को आधा दर्जन बदमाशों ने राजू उर्फ रजनीश यादव के कहने पर पत्रकार राजेश मिश्रा को गोली मारकर हत्या कर दी थी, जिसमें तीन अभियुक्त पहले ही गिरफ्तार हो चुके थे, लेकिन पवन यादव फरार चल रहा था। पुलिस अधीक्षक द्वारा इस पर 10 हजार का इनाम घोषित कर दिया गया था।

उन्होंने बताया कि करंडा थानाध्यक्ष त्रिवेणी लाल सेन व रामपुर मांझा चौकी प्रभारी अमित कुमार मिश्रा की टीम को शुक्रवार सुबह मुखबिर की सूचना मिली कि एक बदमाश बाइक से नंदगंज की तरफ आ रहा है। पुलिस टीम ने घेराबंदी कर बाइक रोकने का इशारा किया तो बदमाश बाइक मोड़कर भागना चाहा, लेकिन पुलिस ने दबोच लिया। पूछताछ में बदमाश ने अपना नाम पवन यादव बताया। उसने बताया कि वह राजीव उर्फ रजनीश यादव का दोस्त व उसके गैंग का सदस्य है।

पूछताछ में उसने स्वीकार किया कि पत्रकार राजेश मिश्रा हत्याकांड में राजीव यादव के कहने पर वह उसके साथ पल्सर मोटर साइकिल चलाकर आया था। उसने एक वर्ष पूर्व चोचकपुर बाजार में रामजी गुप्ता से रंगदारी मामले में की गई फायरिंग में शामिल था। बदमाश पवन यादव के पास से एक तमंचा, दो जिंदा कारतूस, हत्याकांड में प्रयुक्त मोटरसाइकिल बरामद की गई। पुलिस अधीक्षक ने इनामी को पकड़ने वाली टीम को नकद पुरस्कार देने की घोषणा की है।

 

समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। 



पोल

क्या इंडिया टीवी के चेयरमैन रजत शर्मा का क्रिकेट की दुनिया में जाना सही है?

हां, उम्मीद है कि वे वहां भी उल्लेखनीय कार्य कर सुधार करेंगे

नहीं, जिसका काम उसी को साजे। उनका कर्मक्षेत्र मीडिया ही है

बड़े लोगों की बातें, बड़े ही जाने, हम तो सिर्फ चुप्पी साधे

Copyright © 2017 samachar4media.com