संपादक ने दी पत्रकार की हत्या की 'सुुपारी'

संपादक ने दी पत्रकार की हत्या की 'सुुपारी'

Tuesday, 12 December, 2017

समाचार4मी‍डिया ब्यूरो ।।

पूर्व साथी पत्रकार सुनील हेग्गरवल्ली की हत्‍या की सुपारी देने के आरोप में गिरफ्तार कन्‍नड़ के वरिष्‍ठ पत्रकार और ‘हाय बेंगलुरु’ (Hi Bangalore) अखबार के एडिटर रवि बेलगेरे पर एक और सनसनीखेज आरोप लगा है।

यह आरोप हेग्‍गरवल्‍ली ने लगाया है। उनका कहना है कि सेंट्रल क्राइम ब्रांच के अधिकारियों की हिरासत में होने के बावजूद रवि ने उन्‍हें फोन पर धमकी दी। यह फोन रवि को उसके परिचित मधु ने उपलब्‍ध कराया था। इस कॉल में रवि ने सुनील से मीडिया में उसकी पत्‍नी के साथ रिश्‍ते के बारे में दिए गए बयान को लेकर पूछताछ भी की। सुनील ने इस बारे में सुब्रमण्‍यपुरा पुलिस को शिकायत दी है।  

एक वरिष्‍ठ पुलिस अधिकारी ने इस बात की पुष्टि की है कि हेग्गरवल्ली ने इस बारे में लिखित शिकायत की थी। हालांकि इस कॉल में धमकी जैसी कोई बात नहीं लग रही है और हमने कोई एफआईआर दर्ज नहीं की है। हमने इस बारे में क्राइम ब्रांच के अधिकारियों को बता दिया है और वह इस मामले की जांच करेंगे।

वहीं, जाइंट कमिश्‍नर ए सतीश कुमार ने कहा, ‘मैंने डीसीपी से इस बात की जांच करने के लिए कहा है कि हिरासत में होने के बावजूद रवि कैसे सुनील को फोन करने में कामयाब हो गया। उनकी रिपार्ट में यदि सुरक्षा में खामी उजागर होगी तो दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।’

इस बीच राज्‍य के गृहमंत्री रामालिंगा रेड्डी ने भी पुलिस आयुक्‍त से इस मामले में पूछताछ की है। उन्‍होंने यह भी पूछा है कि पुलिस जीप में अस्‍पताल ले जाते समय कैसे रवि सिगरेट पी रहा था। वहीं कोर्ट ने रवि को 23 दिसंबर तक न्‍यायिक हिरासत में रखने के निर्देश दिए हैं।

गौर‍तलब है कि रवि को सुनील हेग्गरवल्ली की हत्‍या की सुपारी देने के आरोप में सेंट्रल क्राइम ब्रांच के अधिकारियों ने शुक्रवार को बेंगलुरु स्थित उनके घर से गिरफ्तार किया था। पुलिस को रवि बेलगेरे के घर से रिवॉल्‍वर और 53 कारतूस मिले थे। इसके अलावा एक डबल बैरल गन, 41 कारतूस और हिरन की खाल भी बरामद हुई थी।

क्राइम ब्रांच से जुड़े वरिष्‍ठ पुलिस अधिकारी के अनुसार, सुनील की हत्‍या के लिए रवि ने न सिर्फ साजिश रची बल्कि भाड़े के हत्‍यारों की मदद भी ली थी। हालांकि बदमाश अपने मंसूबों में कामयाब हो पाते, इससे पहले ही पुलिस ने उन्‍हें दबोच लिया।

अधिकारी के अनुसार, कुछ दिनों पूर्व पुलिस ने ताहिर हुसैन और शशिधर नाम के दो लोगों को अवैध हथियारों के साथ गिरफ्तार किया था। पकड़े गए दोनों लोगों ने इस बात का खुलासा किया कि उन्‍होंने एक पत्रकार की हत्‍या की सुपारी ली थी। जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि इस मामले की साजिश रवि ने रची थी। अधिकारी के अनुसार, जांच के दौरान यह भी पता चला है कि बदमाश पहले ही भाड़े पर हत्‍याएं कर चुके हैं। हालांकि पत्रकार गौरी लंकेश की हत्‍या मामले से इनका कोई लेना-देना नहीं है।


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। 



पोल

क्या इंडिया टीवी के चेयरमैन रजत शर्मा का क्रिकेट की दुनिया में जाना सही है?

हां, उम्मीद है कि वे वहां भी उल्लेखनीय कार्य कर सुधार करेंगे

नहीं, जिसका काम उसी को साजे। उनका कर्मक्षेत्र मीडिया ही है

बड़े लोगों की बातें, बड़े ही जाने, हम तो सिर्फ चुप्पी साधे

Copyright © 2017 samachar4media.com