पत्रकारों ने ‘PCI’ के समक्ष उठाए ये अहम मुद्दे...

Thursday, 28 September, 2017

समाचार4मी‍डिया ब्यूरो ।।

प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया’ (PCI) की एक कमेटी ने लेह में पत्रकारों से मिलकर उनकी समस्‍याएं जानीं। एसएन सिन्‍हा, प्रकाश दुबे, डॉ. सुमन गुप्‍ता और नवीन जोशी के नेतृत्‍व वाली कमेटी यहां जम्‍मूकश्‍मीर से जुड़े मुद्दों की जांच के लिए पहुंची हुई है। इस दौरान कमेटी ने लेह प्रेस क्‍लब के सदस्‍यों से मिलकर यह भी जाना कि लद्दाख में काम करने के दौरान मीडियाकर्मियों को किस तरह की समस्‍याओं का सामना करना पड़ रहा है। 

इस दौरान प्रेस क्‍लब के सदस्‍यों ने प्रतिनिधिमंडल को तमाम समस्‍याओं के साथ ही बताया कि लद्दाख में मीडियाकर्मियों को सबसे ज्‍यादा समस्‍या इंटरनेट सेवा अक्‍सर बाधित रहने से होती है। पत्रकारों ने टीम से मीडिया को मजबूती देने के साथ ही पत्रकारों को और कुशल बनाने की बात कही, जिससे क्षेत्र में पत्रकारिता का माहौल और बेहतर किया जा सके।

लेह प्रेस क्‍लब के अध्‍यक्ष ‘Morup Stanzin’ ने टीम को बताया कि क्षेत्र में कई सरकारी कर्मचारी विभिन्‍न मीडिया संस्‍थानों में बतौर स्ट्रिंगर काम कर रहे हैं, ऐसे में यहां सक्रिय कई पत्रकारों के सामने रोजगार का संकट उत्‍पन्‍न हो रहा है। उन्‍होंने कहा कि लेह में मीडिया गैलरी बनाने के साथ ही कार्यक्रमों के लिए जगह भी उपलब्‍ध कराई जानी चाहिए। इसके अलावा लद्दाख के पत्रकारों को सभी कार्यक्रमों को कवर करने के लिए आमंत्रित किया जाना चाहिए।

रीच लद्दाख बुलेटिन’ (Reach Ladakh Bulletin) की एडिटर ‘Rinchen Angmo’ ने कहा कि प्राय: मेनस्‍ट्रीम मीडिया द्वारा लद्दाख को गलत तरीके से प्रस्‍तुत किया जाता है जबकि उन्‍हें यहां की ज्‍यादा जानकारी नहीं होती है।

स्‍टेट टाइम्‍स’ (STATE TIMES) के लेह ब्‍यूरो चीफ ‘Tsewang Rigzin’  ने कहा कि लेह में ऑल इंडिया रेडियो को अपग्रेड करना चाहिए ता‍कि सुदूरवर्ती क्षेत्रों के लोग भी बिना किसी रुकावट के रेडियो कार्यक्रमों को सुन सकें। उन्‍होंने यह भी सुझाव दिया कि दूरदर्शन लेह के कार्यक्रमों को भी डीटीएच’ (DTH) पर दिखाया जाना चाहिए।


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।



पोल

गौरी लंकेश की हत्या के बाद आयोजित विरोधसभा के मंच पर नेताओ का आना क्या ठीक है?

हां

नहीं

पता नहीं

Copyright © 2017 samachar4media.com