आखिर क्यों राज्यवर्धन राठौर पर खेला गया ये बड़ा दांव, प्रमोशन के पीछ की कहानी...

Wednesday, 16 May, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को केंद्रीय मंत्रिपरिषद में महत्वपूर्ण फेरबदल करते हुए स्मृति ईरानी को सूचना एवं प्रसारण मंत्री के पद से हटा दिया और इस मंत्रालय का प्रभार राज्यवर्धन सिंह राठौड़ को सौंप दिया। दरअसल राठौड़ को यह अहम जिम्मेदारी दिए जाने को पीछे की वजह राजस्थान में होने वाले विधानसभा चुनाव को माना जा रहा है। राठौड़ राजस्थान के राजपूत हैं और राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी का सबसे बड़ा वोट बैंक राजपूत समुदाय इस बार मौजूदा सरकार से काफी खफा भी है। \

लिहाजा डैमेज कंट्रोल के तौर परनाराज राजपूतों को साधने के मकसद से राठौड़ को केंद्र में राजपूतों के चेहरे के तौर पर उभारने की कोशिश की जा रही है।

दरअसल इस नाराजगी वजह एक नहीं बल्कि कई हैं। राजपूत समुदाय को राजस्थान में बीते वर्ष में तीन बार बड़े आंदोलन करने पड़े और हर बार सरकार को उनकी मांग के आगे झुकना भी पड़ा। 

ये हैं तीन बड़े आंदोलन-

1. फिल्म पद्मावती प्रकरण- फिल्म 'पद्मावत' में इतिहास को कथित रूप से तोड़ मरोड़कर पेश करने के आरोप लगाते हुए पूरे प्रदेश में राजपूत समुदाय सड़कों पर उतर आए थे, जोकि एक बड़ा आंदोलन बना।

2. आनंदपाल एनकाउंटर- इसके पहले दूसरा आंदोलन भी बीते वर्ष हुआ था, जब गैंगस्टर आनंदपाल का एनकाउंटर किया गया था। एनकाउंटर की सीबीआई जांच की मांग को लेकर राजपूत समुदाय ने 19 दिन तक पूरे प्रदेश में आंदोलन किया था।  

3.राजमहल प्रकरण- वहीं जयपुर राजघराने की संपत्ति को लेकर भी राजपूतों ने राजमहल होटल को सरकार द्वारा अधिग्रहित करने के विरोध में आंदोलन किया था। उस समय राजपूतों ने जयपुर राजघराने के समर्थन में बड़ी रैली की और यह मामला केंद्र तक भी पहुंचा। बाद में सरकार को मंत्रियों की एक कमेटी बनानी पड़ी और अंतत: होटल परिसर पर लगाई गई सील भी रातोरात खोली गई।

गौरतलब है कि राजमहल पैलेस विवाद प्रकरण, फिल्म पद्मावती प्रकरण और आनंदपाल मामले के बाद से प्रदेश का राजपूत समाज राज्य सरकार से नाराज चल रहा है और यही वजह रही कि इस साल राजस्थान में दो सीटों पर हुए उपचुनाव में भाजपा हार गई थी।

राठौड़ को यह जिम्मेदारी देने की दूसरी वजह उनका म़ृदुभाषी और वाकपटु होना भी माना जा रहा है। अगले साल चुनाव के मद्देनजर सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय का अहम रोल है। राठौड़ का प्रमोशन उस समय हुआ जब बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष पद को लेकर राजस्थान में सियासी घमासान मचा है। वहीं इस बात को लेकर अटकलें भी तेज हो गई है कि क्या अब भाजपा प्रदेशाध्यक्ष पद पर भी किसी राजपूत नेता की ताजपोशी होगी या नहीं। 

वैसे स्मृति ईरानी को क्यों हटाया गया ये जानने के लिए आप नीचे दी गई खबर पर क्लिक कर सकते हैं...

 तो इस वजह से स्मृति ईरानी का हुआ डिमोशन, कर्नल को मिली कमान...


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी रायसुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। 



पोल

रात 9 बजे आप हिंदी न्यूज चैनल पर कौन सा शो देखते हैं?

जी न्यूज पर सुधीर चौधरी का ‘DNA’

आजतक पर श्वेता सिंह का ‘खबरदार’

इंडिया टीवी पर रजत शर्मा का ‘आज की बात’

न्यूज18 हिंदी पर किशोर आजवाणी का ‘सौ बात की एक बात’

एबीपी न्यूज पर पुण्य प्रसून बाजपेयी का ‘मास्टरस्ट्रोक’

एनडीटीवी इंडिया पर रवीश कुमार का ‘प्राइम टाइम’

न्यूज नेशन पर अजय कुमार का ‘Question Hour’

Copyright © 2017 samachar4media.com