फोटो जर्नलिस्ट के इस जज्बे को सलाम...

फोटो जर्नलिस्ट के इस जज्बे को सलाम...

Friday, 10 November, 2017

समाचार4मीडिया ।।

फोटोग्राफी संचार का ऐसा माध्यम है, जिसमें भाषा की आवश्यकता तो नहीं होती, लेकिन तस्वीरों के माध्यम से ही घटना का वर्णन हो जाता है। यही वजह है कि कम्युनिकेशन के विभिन्न माध्यमों में विजुअल्स को सबसे प्रभावी माना जाता है। मीडिया में फोटो जर्नलिज्म की उपयोगिता जैसे-जैसे बढ़ रही है, वैसे ही इसके प्रति लोगों का जुनून भी बढ़ता जा रहा है। इसीलिए अब फोटो पत्रकारिता अत्यंत जोखिम भरा पेशा बन गया है। कई बार तो एक तस्वीर के लिए फोटो जर्नलिस्ट कुछ भी कर-गुजरने को तैयार रहते हैं, ऐसी ही बानगी गुजरात के अहमदाबाद में भास्कर उत्सव में तब देखने को मिली, जब एक फोटो जर्नलिस्ट एक तस्वीर के लिए स्टेज के 50 फिट ऊंचे पिलर पर चढ़ गया।

यह फोटो जर्नलिस्ट कोई और नहीं, बल्कि दैनिक भास्कर के नेशनल फोटो जर्नलिस्ट तारा चंद थे। दरअसल वह भीड़ में हजारों लोगों को एक साथ अपने कैमरे में कैद करना चाहते थे, जिसमें वह कामयाब भी रहे और उनकी द्वारा ली गई तस्वीर दिव्य भास्कर के फ्रंट पेज पर छपी भी। लेकिन जिस समय जब वह तस्वीर लेने के लिए पिलर चढ़े थे तब वहां कवि सम्मेलन चल रहा था। हजारों लोगों की भीड़ जमी थीं, जिसकी फोटो के लिए पहले तो उन्होंने ड्रोन से कई शॉट लिए, लेकिन उन्हें कोई फोटो पसंद नहीं आया।

कुछ देर सोचने के बाद फोटो जर्नलिस्ट तारा चंद के लगा कि यदि वे मंच के पिलर पर चढ़ जाएं तो काम बन जाएगा। उन्होंने इसके लिए एडिटर से पूछा, तो एडिटर ने उन्हें पिलर पर चढ़ने की अनुमति नहीं दी। इसके बाद भी तारा चंद जब कोई फोटो सही नहीं लगी तो वे अपने एडिटर को सॉरी सर बोलकर, बिना किसी सेफ्टी बेल्ट के पिलर पर 50 फिट ऊपर चढ़ गए और वहां से कई शानदार शॉट लिए। उसी में से एक फोटो अगले दिन दिव्य भास्कर फ्रंट पेज पर, हाफ पेज लगी।

समाचार4मीडिया फोटो जर्नलिस्ट के इस जज्बे को सलाम करता है।


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी रायसुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।



Copyright © 2017 samachar4media.com