वरिष्ठ पत्रकार जितेंद्र गुप्त का निधन...

वरिष्ठ पत्रकार जितेंद्र गुप्त का निधन...

Monday, 15 January, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

टाइम्स ऑफ इंडिया समूह की साप्ताहिक समाचार पत्रिका दिनमानके शुरुआती दिनों से लेकर उसके अंत तक उसके साथ जुड़े वरिष्ठ पत्रकार जितेंद्र गुप्त का भी सोमवार को निधन हो गया। वे लगभग 80 वर्ष के थे। उनके निधन की जानकारी वरिष्ठ पत्रकार उमेश चतुर्वेदी ने अपने फेसबुक अकाउंट के जरिए दी। उन्होंने वरिष्ठ पत्रकार जितेंद्र गुप्त और नवभारत टाइम्स लखनऊ के पूर्व संपादक व एनयूजे के अध्यक्ष रहे नंदकिशोर त्रिखा को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए एक फेसबुक पोस्ट लिखा है, जिसे आप यहां पढ़ सकते हैं-

टाइम्स ऑफ इंडिया समूह की मालकिन रमारानी जैन हिंदी में न्यूयॉर्कर (पत्रिका) की तर्ज पर हिंदी में ठीक वैसी ही पत्रिका निकालना चाहती थीं। इसी के तहत दिनमान निकला और सूर्य की तरह छा गया। उसी दिनमान में तकरीबन शुरू से लेकर आखिर तक जितेंद्र गुप्त ने काम किया था। सहायक संपादक की तरह से जुड़े और आखिर के दिनों में दिनमान के 1992 में बंद होने तक कुछ अंकों में उनका नाम संपादक के तौर पर गया।

आज पत्रकारिता की हालत कितनी खराब है कि हिंदी में कम से कम लोग सरकारी नौकरियों में जाना चाहते हैं, लेकिन हिंदी पत्रकारिता पिछली सदी के साठ के दशक में कैसी थी, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि कई लोग सरकारी नौकरियां छोड़कर पत्रकारिता में आए थे। दिनमान जॉइन करने से पहले जितेंद्र गुप्त आकाशवाणी और प्रकाशन विभाग में काम कर चुके थे। दिनमान से अवकाश ग्रहण करने के बाद से वे तकरीबन चुप और पत्रकारिता से पूरी तरह दूर रहे। यह दुर्योग ही कहा जाएगा कि जिस दिन नवभारत टाइम्स लखनऊ के पूर्व संपादक और एनयूजे के अध्यक्ष रहे नंदकिशोर त्रिखा जी हमारा साथ छोड़ गए, उसी दिन जितेंद्र गुप्त ने भी आखिरी सांस ली। त्रिखा जी अपने वार्धक्य को पीछे छोड़कर गंभीर अस्वस्थता के आखिरी दिनों को छोड़ दें तो फेसबुक पर सक्रिय रहे और वैचारिक मुद्दों पर अपनी बेबाक राय भी रखते रहे। अच्युतानंद मिश्र जी जब माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकारिता विश्वविद्यालय के कुलपति बने तो उन्होंने एक पत्रिका निकाली मीडिया मीमांसा, जो अब भी बदले कलेवर में निकल रही है। उसके शुरुआती अंक के लिए अच्युता जी ने दो बड़े पत्रकारों देवदत्त जी और जितेंद्र गुप्त जी का साक्षात्कार करने को कहा था। यह दुर्भाग्य ही है कि पिछले साल इन्हीं दिनों देवदत्त जी हमारा साथ छोड़ गए और ठीक एक साल बाद जितेंद्र गुप्त भी...पत्रकारिता जगत की दोनों ही विभूतियों को श्रद्धांजलि...

 

समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। 



Copyright © 2017 samachar4media.com