दूरदर्शन के बाद अब शालू अवस्थी ने इस न्यूज चैनल में रखा कदम...

Tuesday, 22 August, 2017

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

अभी तक दूरदर्शन के लखनऊ केंद्र में बतौर फ्रीलांस अपनी सेवाएं दे रहीं पत्रकार शालू अवस्थी अब बिजनेस न्यूज चैनल सीएनबीसी आवाजसे जुड़ गईं हैं। मुंबई कार्यालय में उन्हें असिसटेंट प्रड्यूसर की जिम्मेदारी दी गई है। उन्होंने 21 अगस्त से अपना कार्यभार भी संभाल लिया है। दूरदर्शन में वे डीडी यूपी आपके साथ प्रोग्राम में एंकरिंग भी करती थीं।

दूरदर्शन से पहले वे यूपी के रीजनल न्यूज चैनल लाइव टुडेसे जुड़ी हुईं थीं, जहां उन्हें टीवी चैनल की रिपोर्टिंग करने का पहली बार मौका मिला, क्योंकि इसके पहले वे प्रिंट मीडिया में थीं। हिंदी दैनिक नवभारत टाइम्सके लखनऊ एडिशन को अलविदा कह वे लाइव टुडे से जुडीं थीं।

शालू ने नवभारत टाइम्सका लखनऊ एडिशन जून 2014 में जॉइन किया था, तब वे एडिटर सुधीर मिश्रा के नेतृत्व में अपनी भूमिका निभा रहीं थीं। यहां वे सोशल मीडिया और फीचर सेक्शन संभालने के साथ-साथ रिपोर्टिंग भी करती थीं। शालू ने लगभग दो साल से ज्यादा समय तक यहां काम किया और यह उनकी पहली जॉब थी।

दूरदर्शन के दौरान ही शालू ने फ्रीलॉन्स के तौर पर वेब पोर्टल jioraja.com के लिए भी काम किया। कुछ महीनों तक वे indianletter.com में भी रहीं।

देश के कई तमाम समाचार पत्र-पत्रिकाओं में शालू के लगभग दो सौ से ज्यादा आर्टिकल प्रकाशित हो चुके हैं, जिनमें दैनिक जागरण’, ‘आईनेक्स्ट’, ‘हिन्दुस्तान’, ‘डेली न्यूज एक्टिविस्ट’, ‘गांव कनेक्शन इत्यादि शामिल हैं। उन्होंने कई टीवी एक्टर्स और बॉलिवुड स्टार्स के इंटरव्यू भी किए।

लखनऊ की अमेटी यूनिवर्सिटी से जर्नलिज्म व मासकम्युनिकेशन में ग्रेजुएशन करने वाली शालू ने  लखनऊ यूनिवर्सिटी से ही जर्नलिज्म व मासकम्युनिकेशन पोस्ट ग्रेजुएशन भी किया है।

शालू ने कई मीडिया घरानों में इंटर्नशिप की है, जिनमें Kanwhizz Times, IBC News 24 (वेब पोर्टल), ‘जनसंदेश टाइम्सऔर गांव कनेक्शनशामिल है।

 

समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।



पोल

गौरी लंकेश की हत्या के बाद आयोजित विरोधसभा के मंच पर नेताओ का आना क्या ठीक है?

हां

नहीं

पता नहीं

Copyright © 2017 samachar4media.com