उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने पत्रकारों से किया ये आह्वान...

Friday, 01 June, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

भारत में पत्रकारिता आज भी सबसे अधिक स्वतंत्र है। पत्रकार यदि सकारात्मकता की ओर जाते हैं तो वे समाज को दिशा भी दे सकते हैं। पत्रकार को सकारात्मकता या नकारात्मकता की ओर जाना है, यह तय पत्रकार को खुद ही करना होता है। हिंदी पत्रकारिता दिवस के मौके पर एक कार्यक्रम के दौरान ये कहा उत्तर प्रदेश के उपमुख्मंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने। उन्होंने इस दौरान पत्रकारों को सकारात्मक पत्रकारिता करने का आह्वान किया।


आजादी की लड़ाई में पत्रकारों की भूमिका को रेखांकित करते हुए उन्होंने कहा कि अंग्रेज जितना तमंचे से नहीं डरते थे, उतना लेखक से डरते थे। पत्रकार शब्दों से क्रांति पैदा करते थे। उन्होंने इशारों में कहा कि फर्जी पत्रकारों को छांटना बड़ी चुनौती है।


बुधवार को ब्रज प्रेस क्लब और उत्तर प्रदेश जर्नलिस्ट एसोसिएशन (उपजा) द्वारा आयोजित पत्रकारिता दिवस समारोह में उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि खोजी पत्रकारिता से इतिहास खोजने का प्रयास भी होता है। 1826 में पत्रकारिता शुरू होने के दावों समेत अन्य तथ्यों को एक तरफ रखते हुए उन्होंने दावा किया कि भारत में तो पत्रकारिता सदियों पहले महाभारत काल में ही शुरू हो गई थी। यही नहीं, अपने संबोधन में उपमुख्यमंत्री ने महाभारत और रामायण काल की तकनीक का जमकर बखान किया और नारद भगवान को पहला पत्रकार भी बताया। 



इस कड़ी में उन्होंने संजय और धृतराष्ट्र का भी उदाहरण दिया और बताया कि उस समय भी लाइव टेलिकास्ट होता था। हस्तिनापुर से ही बैठे-बैठ संजय कुरुक्षेत्र में हो रहे महाभारत के युद्ध का दृष्टांत धृतराष्ट्र को बताते थे। उन्होंने कहा कि यह आज के समय टीवी पर होने वाला सीधा प्रसारण (लाइव टेलिकास्ट) नहीं है तो और क्या है।


इस दौरान उन्होंने कहा, 'गूगल अभी शुरू हुआ है लेकिन हमारा गूगल लंबे समय पहले शुरू हो गया था। जिस गूगल को आप लोग हर विषय के जानकार के रूप में जानते हैं, महाभारत काल में एक विशेष चरित्र हुआ करते थे 'नारद मुनि। जो कभी भी, कहीं भी पहुंच जाते थे और हर समस्या का निदान सुझा देते थे। वह भी केवल तीन बार नारायण-नारायण, बोलकर। पल भर में कोई भी संदेश कहीं भी पहुंचा देते थे। हमें अपने गौरवशाली अतीत को कभी नहीं भूलना चाहिए। उन्होंने प्रेस की स्वतंत्रता की तारीफ करते हुए कहा कि सरकारों को मीडिया से जुड़े लोगों की सुरक्षा का ध्यान रखना चाहिए।



महाभारत काल पर 'ज्ञान' देते हुए उन्होंने यह दावा भी किया, 'मोतियाबिंद का ऑपरेशन, प्लास्टिक सर्जरी, गुरुत्वाकर्षण सिद्धांत, परमाणु परीक्षण और इंटरनेट जैसी तमाम आधुनिक प्रक्रियाएं पौराणिक काल में भारत में शुरू हुई थीं। 


कार्यक्रम के दौरान ब्रजप्रेस क्लब अध्यक्ष और उपजा के प्रदेश उपाध्यक्ष कमलकांत उपमन्यु एडवोकेट ने पिछले एक साल में पांच पत्रकारों के निधन पर परिवारों को 25-25 लाख रुपए की सहायता राशि देने की मांग उठाई। इस पर उपमुख्मंत्री ने कहा कि यदि इस संदर्भ में उन्होंने लिखकर दे दिया जाए, तो वे मुख्यमंत्री से इस सम्बन्ध में बात भी करेंगे।

 

इस मौके पर विधायक पूरन प्रकाश, भाजपा जिलाध्यक्ष तेजवीर सिंह, पूर्व विधायक हुकुमचंद्र तिवारी, मेयर मुकेश आर्यबंधु, बार एसोसिएशन अध्यक्ष संतोष शर्मा, अनंत स्वरूप वाजपेयी, उद्योगपति पवन चतुर्वेदी, सुदीप अग्रवाल, राजीव अग्रवाल, सुरेश बंसल, अतुल सिसौदिया, भाजपा नेता एसके शर्मा, देवेंद्र गौतम, आनंद गोस्वामी, आबिद हुसैन, महेंद्र चौधरी, राजेश चौधरी मौजूद रहे। संचालन डा. अनिल चतुर्वेदी ने किया।

यहां देखें कार्यक्रम की अन्य तस्वीरें-









 

 

समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी रायसुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।  



पोल

रात 9 बजे आप हिंदी न्यूज चैनल पर कौन सा शो देखते हैं?

जी न्यूज पर सुधीर चौधरी का ‘DNA’

आजतक पर श्वेता सिंह का ‘खबरदार’

इंडिया टीवी पर रजत शर्मा का ‘आज की बात’

इंडिया न्यूज पर दीपक चौरसिया का 'टू नाइट विद दीपक चौरसिया'

न्यूज18 हिंदी पर किशोर आजवाणी का ‘सौ बात की एक बात’

एबीपी न्यूज पर पुण्य प्रसून बाजपेयी का ‘मास्टरस्ट्रोक’

एनडीटीवी इंडिया पर रवीश कुमार का ‘प्राइम टाइम’

न्यूज नेशन पर अजय कुमार का ‘Question Hour’

Copyright © 2017 samachar4media.com