इस वजह से सुरक्षा एजेंसी ने फोटो जर्नलिस्ट को किया गिरफ्तार...

इस वजह से सुरक्षा एजेंसी ने फोटो जर्नलिस्ट को किया गिरफ्तार...

Thursday, 07 September, 2017

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

कश्मीर घाटी में टेरर फंडिंग के खिलाफ सख्त कार्रवाई करते हुए राष्ट्रीय सुरक्षा जांच एजेंसी एनआईए लगातार छापेमारी और गिरफ्तारियां कर रही है। इसी बीच एनआईए ने कामरान यूसुफ नाम के एक फोटो जर्नलिस्ट को भी गिरफ्तार किया है, जिसके बाद से घाटी के तमाम पत्रकार विरोध पर उतर आए हैं और फोटो जर्नलिस्ट को निर्दोष बताते हुए रिहाई की मांग कर रहे हैं।

फोटो जर्नलिस्ट सहित दो लोगों को पूछताछ के लिए राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की विशेष अदालत ने 10 दिन की हिरासत में भेज दिया गया। जिला जज पूनम ए. बम्बा ने एनआईए को 16 सितंबर तक कुलगाम के जावेद अहमद भट् और पुलवामा के कामरान यूसुफ से पूछताछ की इजाजत दी। यह इजाजत तब दी गई जब जांच एजेंसी ने कहा कि उनका सामना इस मामले के अन्य आरोपियों से कराना है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कामरान को इसलिए गिरफ्तार किया गया क्योंकि उन पर आरोप लगा है कि वे पत्थरबाजी और सुरक्षाकर्मियों के खिलाफ सोशल मीडिया के जरिए समर्थन जुटाने में कथित तौर पर शामिल थे। उनके साथ ही एक अन्य शख्स को भी इसी आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

वहीं एनआईए के मुताबिक, यूसुफ पथराव की घटनाओं में शामिल थे और ऐसे युवाओं के समूहों को संगठित करते थे जो आतंकवाद के खिलाफ अभियान में सुरक्षाकर्मियों पर पत्थर फेंकते हैं। यूसुफ को स्थानीय पुलिस ने कई बार चेतावनी भी दी थी, लेकिन वह कथित तौर पर युवकों को एकत्र करता और स्थानीय और राष्ट्रीय समाचार पत्रों के लिए तस्वीरें खींचता था।

फोटो पत्रकार कामरान यूसुफ को गिरफ्तार किए जाने के बाद इसके विरोध में पुलवामा में डिप्टी कमिश्नर ऑफिस के बाहर पत्रकारों ने प्रदर्शन किया। इस दौरान पत्रकारों ने बैनर लेकर प्रदर्शन किया, जिन पर लिखा था कि कामरान यूसुफ एक पत्रकार है, कोई पत्थरबाज नहीं इसके साथ ही कुछ बैनरों पर लिखा था कि पत्रकार कामरान यूसुफ को रिहा करो।


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।



Copyright © 2017 samachar4media.com