इस वजह से ‘Times Network’ ने ‘Republic TV’ के खिलाफ खोला मोर्चा इस वजह से ‘Times Network’ ने ‘Republic TV’ के खिलाफ खोला मोर्चा

इस वजह से ‘Times Network’ ने ‘Republic TV’ के खिलाफ खोला मोर्चा

Wednesday, 13 September, 2017

समाचार4मी‍डिया ब्यूरो ।।

टाइम्‍स नेटवर्क’ (Times Network) ने डिजिटल केबल सर्विस प्रोवाइडर डेन नेटवर्क’ (DEN Networks) और टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI)  को पत्र भेजा है। अलग-अलग भेजे गए इन पत्रों में टाइम्‍स नेटवर्क ने आरोप लगाया है कि उनका प्रतिद्वंद्वी चैनल रिपब्लिक टीवी’ (Republic TV) अंग्रेजी और हिन्‍दी न्‍यूज जॉनर दोनों में (LCN) दिखाई दे रहा है।

11 सितंबर को डिजिटल केबल टीवी सर्विस प्रोवाइडर को भेजे गए पत्र में टाइम्‍स नेटवर्कने कहा है कि रिपब्लिक टीवीटेलिकम्‍युनिकेशन इंटरकनेक्‍शन रेगुलेशन 2012 के साथ ही ट्राई के निर्देशों का उल्लंघन कर रहा है। इसके साथ ही 31 मई को जारी की गई प्रेस रिलीज ‘Listing of TV channels on Electronic Programme Guide' भी संलग्न की । इस पत्र में इस स्थिति को जल्‍द से जल्‍द सही करने के लिए कहा गया है।

वहीं, ‘ट्राईको भेजे गए पत्र में टाइम्‍स नेटवर्कका कहना है कि उसने पहले ही बताया था कि रिपब्लिक टीवीद्वारा नियमों का उल्‍लंघन किया जा रहा है। इस पत्र में ट्राई से इस दिशा में जल्‍द से जल्‍द कदम उठाने की मांग की गई है।

टाइम्‍स नेटवर्क का यह भी कहना है, ‘ट्राई द्वारा इस दिशा में निष्क्रियता से लगातार इस तरह की स्थिति बनी हुई है और यह टाइम्‍स नॉउ के साथ ही इसी जॉनर के अन्‍य चैनलों के लिए भी हानिकारक है।

गौरतलब है कि काफी विवादों के बाद रिपब्लिक टीवीअगस्‍त में न्यूज ब्रॉडकास्टर्स एसोसिएशन’ (एनबीए) में शामिल हुआ था। इससे पहले 15 मई को एनबीए ने बार्क इंडिया को लेटर लिखकर रिपब्लिक टीवी पर मल्‍टीपल फीड पर चलने का आरोप लगाते हुए इसकी व्‍युअरशिप के डाटा को तब तक रिलीज न करने का अनुरोध किया था, जब‍ तक कि वह मल्टी सिस्टम ऑपरेटर्स प्लेटफॉर्म्स पर कई फीड्स चलाना बंद न कर दे। यह मामला उस समय और गहरा गया था जब एनबीए द्वारा तमाम नोटिस देने के बावजूद बार्क ने अपने डाटा जारी कर दिए थे। इसके बाद से तमाम अंग्रेजी न्‍यूज चैनल इस रेटिंग एजेंसी से अलग हो गए थे।

बाद में बार्कऔर ट्राईके बीच कई दौर की वार्ता का दौरा चला था। ट्राई के हस्‍तक्षेप के बाद 26 मई को सभी चैनल फिर से इस रेटिंग एजेंसी के साथ आ गए थे। इस बारे में एनबीए ने ट्राई के समक्ष शिकायत कर मल्‍टीपल लॉजिकल नंबर्स (LCNs) को लेकर मल्‍टी सिस्‍टम ऑपरेटर्स (MSO) के लिए दिशा निर्देश जारी करने की मांग की थी। एनबीए की शिकायत के बाद ट्राई ने इस बारे में दिशा निर्देश जारी किए थे।


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।



Copyright © 2017 samachar4media.com